युवाओं को स्वरोजगार की राह दिखा रही प्रधानमंत्री मुद्रा योजना

सतीशचौहान,कुरुक्षेत्र:जितेंद्रकुमारकीगुलजारीलालनंदामार्गपरवाल्मीकिचौककेपासस्थितछोटीसीदुकानथी।हालातशुरुआतमेंऐसेथेकिपरिवारकागुजारामुश्किलथा।खर्चेसेकमकमाईथी।जितेंद्रबतातेहैं,मैंनेवर्ष2007मेंयहांदुकानबनाईथी।उससमयदुकानमेंखानेकेसामानकीव्यवस्थाकीगईथी।जिसमेंचायकेसाथहीदोपहरऔररातकाखानादियाजाताहै।दुकानपरबैठनेवालेएकदोस्तनेमुझेप्रधानमंत्रीमुद्रायोजनाकेबारेमेंजानकारीदी।बतायाकिछोटेकामकेलिएबैंकसेपैसामिलजाएगा,जिससेआमदनीबढ़ेगी।मैंबैंककेपासअपनेकागजातोंकेसाथगया।हालांकिस्टेटबैंककेअधिकारियोंकीओरसेउसकीपूरीजांचकीगई,लेकिनउन्होंनेमेरेकामकोदेखतेहुए2014मेंउसे50हजाररुपयेकामुद्राऋणदेदिया।उसकेबादमैंनेअपनीदुकानकोऔरअधिकबढ़ादिया।जिसमेंएकदुकानकोऔरलेकरसाथहीपरचूनकासामानभीरखागया।इसकेसाथहीमोबाइलरिचार्जकरने,डिसचार्जकरनेआदिकाकामशुरूकरदियागया।इससेमेराकामबढ़गयाहैऔरहमदोनोंभाईअबइसदुकानकोचलारहेहैं।मुद्राऋणकभीकापूराभीहोगया,लेकिनउनकेकाममेंउनकासहायतामिलगई।

जितेंद्रजैसेजिलेमेंबहुतसेलाभार्थीहैं,जिनकीजिदगीकोप्रधानमंत्रीमुद्राऋणयोजनानेबदलदीहै।फोटोसंख्या-30

इस्माईलाबादकेराजेशकुमारकीचलपड़ीस्वरोजगारकीगाड़ीप्रधानमंत्रीमुद्रायोजनाकेकारणइस्माईलाबादकेराजेशकुमारकीरोजगारकीगाड़ीभीचलनिकली।वहगांवमेंहीएकछोटीसीदुकानमेंखलभंडारचलारहेथे,लेकिनपैसेकीकमीकेकारणव्यवसायमेंनिवेशकरनेमेंदिक्कतहोरहीथी।गांवमेंपरिवारकेहीएकसदस्यनेयोजनाकेबारेमेंबताया।उसकेबादगांवमेंस्थितपंजाबनेशनलबैंकमेंगयातोवहांअधिकारियोंनेकुछकागजोंकीमांगकी।दसवींकीअंकतालिकादिखाई।बैंककेअधिकारियोंनेमेरीदुकानकामुआयनाभीकिया।उसकेबाद60हजाररुपयेकाऋणदिया।जिसकानिवेशदुकानमेंकियातोरोजगारकीगाड़ीचलनिकली।उसकेबादबैंककाऋणभीभरदियाऔरआजअपनेपरिवारकोचलानेलायकहोगयाहूं।बाक्स

बैंकोंकेचक्करकाटकरथकानहींदियागयाऋणबाबैनकेगांवगुढ़ानिवासीसमीरखाननेबतायाकिवहबाबैनमेंहीरेडिमेडगारमेंट्सकीदुकानचलाताहै।उसेप्रधानमंत्रीमुद्रायोजनाकीजानकारीमिलीथीतोवहपासमेंहीस्थितकैनराबैंकमेंऋणलेनेकेलिएगए।अधिकारियोंनेकईबारउसेकागजोंसहितबुलायाऔरकईबारअधिकारियोंसेबातचीतकी।हरबारकोईनकोईबहानाबनाकरवेमुझेटालतेरहे।इसकेकारणकईबारदुकानभीबंदरखनीपड़ीऔरदुकानदारीकानुकसानहुआ।कईमहीनोंबादबैंकोंकेचक्करकाटनेकेबादभीबैंकनेकोईरास्तानहींदियातोथककरघरपरहीबैठगया।बॉक्स

खूबभारहीयोजनाकेंद्रसरकारकीओरसेवर्ष2014मेंशुरूकीगईप्रधानमंत्रीमुद्रायोजनानेहजारोंयुवाओंकोरोजागरकीराहदिखाईहै।स्वरोजगारकेलिएचलाईगईयोजनानेहजारोंयुवाओंकाभविष्यसंवाराहै,हालांकिबैंकोंकीसुस्तीनेयोजनाकोअमलीजामापहनानेमेंदिक्कतहुईहै।केंद्रसरकारकीइसयोजनाकेतहतकुरुक्षेत्रमेंअप्रैल2018सेदिसंबर2018तक7हजार644बेरोजगारोंकोरोजगारस्थापितकरनेमेंमहत्वपूर्णयोगदानदियाहै।योजनाकीखासबातयेहैकियोजनामेंदेशकीआधीआबादीमहिलाओंकोभीआगेबढ़कररोजगारस्थापितकरनेमेंमहत्वपूर्णभूमिकानिभाईहै।जिलेमेंवर्ष2018में3636महिलाओंकोऋणप्रदानकियागयाहै।वहीं1755अनुसूचितजातिकेयुवाओंनेभीयोजनाकालाभप्राप्तहुआहै।