युवाओं को सहायक धंधों से जोड़ने के लिए लोन दें बैंक : डीसी

संवादसहयोगी,फाजिल्का:डिप्टीकमिश्नरमनप्रीतसिंहनेजिलाफाजिल्काकेसमूहबैंकोंकेअधिकारियोंकोहिदायतकीकिवहनौजवानोंकोखेतीकेसहायकधंधोंजैसेपशुपालन,बागबानी,मछली,बकरीऔरसूअरपालनआदिमेंअपनारोजगारशुरूकरनेकेलिएदिलखोलकरकर्जदें।

बैंकोंकीजिलासलाहकारकमेटीवजिलास्तरीयसमीक्षाकमेटीकीतिमाहीबैठककीअध्यक्षताकरतेहुएउन्होंनेजिलेकेसरकारी,सहकारी,अर्धसरकारीऔरप्राईवेटबैंकोंकेअधिकारियोंकोबतायाकिरिपोर्टअनुसारबैंकोंकीतरफसेबागबानीक्षेत्रमेंकर्जनहींदियागया।इसीतरहपशुपालनजैसेसहायकधंधोंमेंजिलेमेंकेवल4मामलोंमेंसूअरपालनकेलिएकर्जदियागयाहै।जबकिमछलीपालनमेंभीबैंकोंकीकारगुजारीढीलीरहीहै।उन्होंनेबतायाकिजिलाफाजिल्काकापानीखाराहोनेकेकारणकेंद्रसरकारकीतरफसेअबोहरमें10करोड़रुपएकीलागतकेसाथमछलीपालनकाप्रोजेक्टशुरूकरनेकीकार्यवाहीचलरहीहै।इसलिएबैंकअधिकारीअपनीमानिसकताबदलेंऔरसहायकधंधोंमेंस्व-रोजगारकेमौकेपैदाकरनेकेलिएअपनाभरपूरसहयोगदें।उन्होंनेबतायाकिपीएमईजीकार्यक्रमकेतहतदोतरहकेकर्जेदिएजातेहैं,जिसमेंअधिकसेअधिक10लाखतककालोनसर्विसक्षेत्रकेलिएऔर25लाखतककालोनमेनुफेक्चरिगक्षेत्रकेलिएदेनेकीसुविधाहै।उन्होंनेबतायाकिसर्विसक्षेत्रकेतहतटैंट,बुटीक,शैटरबनानेआदिमेंकार्यशुरूकरनेऔरमैनुफेक्चरिगक्षेत्रअधीनटाइलेंबनाने,कूलरबनानेऔरइनवरटरआदिकेनिर्माणकाकार्यशुरूकियाजासकताहै।उन्होंनेबतायाकिइसयोजनाकेअंतर्गत15से35प्रतिशतसब्सिडीदीजातीहै।

उन्होंनेयहभीहिदायतकीकिकमजोरवर्गोंकोआर्थिकतौरपरमजबूतकरनेकेलिएसरकारकीतरफसेअलग-अलगस्कीमोंकेतहतलोनमुहैयाकरवानेमेंबैंकसंकोचनकरें।इसदौरानलीडबैंकमैनेजरशिवचरणनेअलग-अलगबैंकोंकीरिपोर्टेंपेशकी।उन्होंनेबतायाकिजिलेमेंवित्तीयवर्ष2018-19केदौरानजरूरतमंदोंकोअलग-अलगस्कीमोंकेअंतर्गत4544.46करोड़रुपएकेकर्जेमुहैयाकरवानेकालक्ष्यमानागयाथा,जिसको100.11प्रतिशतपूराकरतेवार्षिककर्जयोजनाकेतहत4549.31करोड़रुपएकेकर्जेदिएगए।इसीतरहराष्ट्रीयलक्ष्योंकेअंतर्गत31मार्च2019तकक्षेत्रमेंकर्जेकालक्ष्य40प्रतिशतकेमुकाबले86.32प्रतिशत,कुलकृषिकर्जेकालक्ष्य18प्रतिशतकेमुकाबले65.99प्रतिशत,कमजोरवर्गोंकेलिएकर्जेकालक्ष्य10प्रतिशतकेमुकाबले13.28प्रतिशतऔरकर्जसंचितअनुपातकालक्ष्य60प्रतिशतकेमुकाबले142.52प्रतिशतहासिलकियागयाहै।इसमौकेभारतीयरिजर्वबैंककेएजीएमसंजीवकेन,नाबार्डकेजिलामैनेजरअश्वनीकुमार,वित्तीयसाक्षरतासलाहकारजसपालसिंहवअन्यउपस्थितथे।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!