यदि सिद्धू अपना काम नहीं करना चाहते, तो मैं कुछ नहीं कर सकता: अमरिंदर

नयीदिल्ली,15जुलाई(भाषा)पंजाबकेमुख्यमंत्रीअमरिंदरसिंहनेसोमवारकोकहाकियदिउनकेमंत्रिमंडलीयसहयोगीनवजोतसिंहसिद्धूअपनाकामनहींकरनाचाहतेहैं,तोवहकुछकरनहींसकते।मुख्यमंत्रीनेकहाकिमंत्रीकोधानकीफसलकेअहमसीजनकेदौरानकामछोड़करजानेकेबजायअपनेनयेविभागकोस्वीकारकरनाचाहिएथा।उन्होंनेदोहरायाकिसिद्धूकोकामदियाथाजिसेउन्हेंस्वीकारकरनाचाहिएथाऔरकरनाचाहिएथा।उन्होंनेकहा,‘‘यदिसिद्धूकामनहींकरनाचाहतेतोइसबारेमेंमैंकुछनहींकरसकता।’’मुख्यमंत्रीनेसवालदागाकिकैसेकोईसैनिक,जनरलद्वाराउसेदियेगयेकार्यकोकरनेसेइनकारकरसकताहै।उन्होंनेकहाकियदिसरकारकोप्रभावीतरीकेसेकामकरनाहैतोउसमेंकुछअनुशासनतोहोनाहीचाहिए।सिद्धूपंजाबकेकैबिनेटमंत्रीपदसेअपनाइस्तीफाघोषितकरचुकेहैं।उन्होंने10जूनकोकांग्रेसअध्यक्षराहुलगांधीकोभेजेगयेत्यागपत्रकोसार्वजनिककरदियाहै।उन्होंनेयहभीकहाहैकिवहअपनात्यागपत्रशीघ्रहीमुख्यमंत्रीकोभीभेजेंगे।सिद्धूनेसिंहकेसाथचलरहीतनातनीकेबीचइस्तीफादिया।सिंहनेहालहीमेंमंत्रिमंडलमेंफेरदबदलकेदौरानसिद्धूकाविभागस्थानीयशासनसेबदलकरबिजलीविभागकरदियाथा।हालांकि,सिद्धूनेनएविभागकाकार्यभारनहींसंभालाक्योंकिवहअपनाविभागबदलेजानेसेनाराजथे।जबमुख्यमंत्रीसेपूछागयाकिक्यासिद्धूनेसुलहकीकोईकोशिशकीहैतोउन्होंनेकहा,‘‘मुझेउनसेकोईसमस्यानहींहै।यदिउन्हेंमुझसेहैंतोआपकोउनसेहीपूछनाहोगा।’’हालांकि,उन्होंनेयहभीकहाकिमंत्रीद्वाराकांग्रेसअध्यक्षकोत्यागपत्रभेजेजानेमेंउन्हेंकोईनुकसाननजरनहींआता।सिंहनेकहाकिकांग्रेसआलाकमानकेसाथविचारकरमंत्रिमंडलपरफैसलाकियागयाथाअतएवसिद्धूद्वारापार्टीअध्यक्षकोत्यागपत्रभेजाजानासहीहै।वहप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीसेशिष्टाचारभेंटकरनेकेबादसंसदभवनकेपरिसरमेंसंवाददाताओंसेअनौपचारिकबातचीतकररहेथे।मुख्यमंत्रीनेकहाकिउन्होंनेइसमौकेकाइस्तेमालश्रीगुरूनानकदेवजीकी550वींजयंतीसमारोहपरप्रधानमंत्रीकेसाथचर्चाकरनेकेलिएकिया।प्रधानमंत्रीनेउसमेंहिस्सालेनेऔरउसेसफलबनानेकेलिएसभीसंभवसहायतादेनेकाआश्वासनदिया।सिद्धूकेत्यागपत्रपरसिंहनेकहाकिउन्हेंपताचलाकिचंडीगढ़मेंउनकेनिवासपरत्यागपत्रभेजागयाहैलेकिनउन्होंनेउसेअबतकदेखानहींहै,उसेपढ़नेकेबादहीवहकुछकहपायेंगे।साथहीउन्होंनेकहाकिलोकसभाचुनावकेबादउन्होंने17मेंसे13मंत्रियोंकाविभागबदलालेकिनकेवलसिद्धूहीएकमात्रऐसेसदस्यहैंजिन्हेंपरेशानीहै।