वर्तमान और भविष्य के लिए पर्यावरण की रक्षा आवश्यक

जहानाबाद।अब्दुलबारीनगरभवनमेंपृथ्वीदिवसकेअवसरपरशुक्रवारकोमुख्यमंत्रीकालाइवप्रसारणसुनागया।अनुमंडलएवंप्रखंडमुख्यालयमेंकार्यक्रमआयोजितकियागया।

मुख्यमंत्रीनेजल-जीवन-हरियालीजागरुकताकार्यक्रममेंलोगोंकाआह्वानकियाकिपर्यावरणकीरक्षाएवंजलसंरक्षणहमारेलिए,हमारेबच्चोंकेलिएतथाहमारेभविष्यकेलिएआवश्यकहै।उन्होंनेकहाकिबिहारपृथ्वीदिवसकाउद्देश्यहैकिपृथ्वीकेसंरक्षणकेलिएजनसहभागिताकोबढ़ायाजाए।इसकार्यक्रमकेसफलआयोजनकेलिएजागरुकताअभियानकाशुभारंभकियागयाहै।उन्होंनेकहाकिपर्यावरणपरसंकट,कटतेवृक्ष,जलवायुपरिर्वतनएवंजलबर्बादीहमारेलिएघातकहै।पर्यावरणकेअसंतुलितहोनेकेकारणवर्षापातमेंकमीतथाजलस्तरमेंकमीदेखीजारहीहैजिसकापरिणामयहहैकिएकतरफबाढ़तोदूसरीतरफसुखाड़कीस्थितिहै।राज्यकेकईजिलोंमेंसूखेकीस्थितिहै।उन्होंनेबतायाकि18अगस्तकोबिहारकेसभीजिलेकेप्रभारीमंत्रियोंएवंप्रभारीसचिवकोजिलेमेंभेजकरस्थितिकीसमीक्षाकीजाएगी।उन्होंनेकहाकि13अगस्तकोसभीदलोंकेप्रतिनिधियोंकेसाथबैठकमेंसभीनेएकस्वरमेंकहाकिहमसबमिलकरपर्यावरणएवंजलसंरक्षणकाकार्यकरेंगे।कार्यक्रमकानामजल-जीवन-हरियालीतभीसार्थकहोगा,जबहमजलएवंहरियालीकोसंरक्षितकरेंगे,तभीहमाराजीवनसुरक्षितहोगा।विकासकेनामपरयहध्यानरखनाहोगा,किप्रकृतिकोसंरक्षितकियाजाए।उन्होंनेसौरऊर्जाकीवकालतकरतेहुएकहाकिबिजलीकीअधिकखपतसंभवनहींहै।उन्होंनेकहाकिखुलेमेंशौचसेमुक्तिकेलिए,प्रकृतिअथवाकुदरतकेसाथछेड़छाड़तथाजलकीबर्बादीकोरोकनाआवश्यकहोगा।उन्होंनेस्पष्टरूपसेकहाकिव्रजपातकीअधिकघटनाचिताकाविषयहै।इसलिएपानीकेलिएऔरहरियालीकेलिएअधिक-से-अधिकवृक्षलगानाअनिवार्यहोगा।उन्होंनेकहाकियहअभियानतभीसफलहोगा,जबहमतालाब,पोखर,नहर,पईनकीखुदाईकरेंगेअथवानिर्माणकरायेंगेतथाअधिक-से-अधिकवृक्षारोपणकरेंगे।

जिलाधिकारीनवीनकुमारनेकार्यक्रममेंसांसदसहितअन्यजनप्रतिनिधियों,पदाधिकारियों,जीविकादीदियोंसहितआमजनोंकोधन्यवाददेतेहुएकहाकिजिलाप्रशासनद्वाराजुलाईमाहसेहींपर्यावरणएवंजलसंरक्षणकेलिएवृक्षलगाने,सॉकपीटबनाने,रेनवाटरहारवेस्टिगसिस्टमकाअधिक-से-अधिकनिर्माणकरनेंकेलिएमुहिमचलायाजारहाहै।उन्होंनेलोगोंसेआह्वानकियाकिमुख्यमंत्रीजीकेसंदेशकेआलोकमेंजिलाप्रशासनद्वाराजल-जीवन-हरियालीकार्यक्रमकोसफलतापूर्वकसंपन्नकराएंगे।उन्होंनेकहाकिजलऔरहरियालीसमयकीमांगहैऔरहरियालीतथाजलकोसंरक्षितकरहींहमजीवनकोबचासकतेहै।मौकेपरसांसदचंदेश्वरप्रसाद,पुलिसअधीक्षकमनीष,जिलापरिषदअध्यक्षआभारानी,मुख्यपार्षद,जिलापरिषदकेसदस्यगणसहितअन्यजनप्रतिनिधिसमेतबड़ीसंख्यामेंजीविकादीदीएवंगणमान्यलोगमौजूदथे।