ऊधम सिंह का बलिदान प्रेरणादायी

संवादसहयोगी,बाजपुर:शहीदऊधमसिहकंबोजकेशहीदीदिवसपरउनकाभावपूर्णस्मरणकियागया।इसमौकेपरसीमावर्तीगांवनूरपुरफाजलपुरमेंआयोजितसमारोहकोसंबोधितकरतेहुएउत्तरप्रदेशकेराज्यमंत्रीबल्देवसिंहऔलखनेकहाकिजलियावालाबागकांडकाबदलालेकरउन्होंनेआजादीकेआंदोलनमेंनएजोशकासंचारकिया।उनकाबलिदानसभीकोलिएप्रेरणादायीसाबितहुआ।

औलखनेकहाआजलोकतंत्रहै,लेकिनउससमयहालातऐसेथेकिपंजाबकेतत्कालीनगवर्नरमाइकलकेआदेशपरजरनलडायरनेअमृतसरकेजलियांवालाबागमेंशांतिकेसाथसभाकररहेसैकड़ोंभारतीयोंकोअंधाधुंधफायरिगकरमौतकेघाटउतारदियाथा।इसघटनाकाऊधमसिंहकेमनपरगहराअसरपड़ाथा।तभीउन्होंनेइसजघन्यघटनाकाबदलालेनेकीठानलीथी।अपनीप्रतिज्ञाकोपूराकरनेकेलिएवर्ष,1934मेंलंदनपहुंचगएथे।उन्होंनेजनरलडायरकोगोलीमारकरमौतकेघाटउतारदियाथा।इसकेबादउन्होंनेअंग्रेजीसरकारकेसामनेआत्मसमर्पणकरदिया।उन्हेंफांसीकीसजासुनाईगईऔरवहहंसते-हंसतेफांसीपरझूलगए।ऐसेअमरबलिदानीसेहमेंसीखलेनीचाहिए।जिससेदेशकानामऊंचाहोसके।

पूर्वदर्जामंत्रीहरेंद्रसिंहलाड़ी,जिपंसदस्यखलीलअहमद,रियासतअली,भाजपानेत्रीडोलीरंधावा,पुस्वाड़ाकिसानसेवासमितिकेचेयरमैननिशानसिंहरंधावाआदिनेभीशहीदऊधमसिंहकेजीवनपरप्रकाशडाला।इसमौकेपरप्रधानमुंशीरामकंबोज,रचनाकौर,अमरजीतसिंह,नत्थारामकंबोज,पूर्वप्रधानसतनामसिंहरंधावा,दर्शनलालकंबोज,डा.साहबचंद्रकंबोज,स्कूलप्रबंधसमितिप्रबंधकसुखदेवसिंहकंबोज,प्रधानाचार्यराजवीरचौहान,जयमलकंबोज,रमेशचंद्र,अमनप्रीतकौर,ओमचंदकंबोज,भजनलालकंबोजआदिथे।

इधरविहिपकार्यकर्ताओंनेदोराहामेंशहीदऊधमसिंहकीमूर्तिपरफूल-मालाएंअर्पितकरउन्हेंश्रद्धांजलिदी।इसमौकेपरजिलामंत्रीयशपालराजहंस,जितेंद्रपासी,अरुणभारद्वाज,सोनूप्रजापति,मनोजकुमार,राजेशसक्सेना,सुरजीतकुमार,रामदास,कमल,राजेश,गौरवथे।