उत्तराखंड: IIM की तर्ज पर होंगे साइंस कॉलेज में बंदोबस्त, नहीं होगा बाहरी हस्तक्षेप; दो चरणों में प्रवेश परीक्षा

देहरादून,राज्यब्यूरो।उत्तराखंडमेंविज्ञानकेक्षेत्रमेंसेंटरऑफएक्सीलेंसकेरूपमेंराज्यस्तरीयविज्ञानस्नातकोत्तरमहाविद्यालयबालावालामेंजल्दमूर्तरूपलेनेजारहाहै।आइआइएमऔरआइआइटीकीतर्जपरइसकीव्यवस्थाएंकीजाएंगी।इसमेंकिसीभीतरहकाबाहरीहस्तक्षेपनहींहोगा।सरकारइसेसोसायटीमोडमेंचलाएगी।उच्चशिक्षानिदेशककोदोहफ्तेकेभीतरमहाविद्यालयकेबायलाजतैयारकरनेकेआदेशदिएगएहैं।महाविद्यालयमेंदाखिलेकोछात्रोंकाचयनआइआइआइटीवजेईईस्तरीयप्रवेशपरीक्षाकेमाध्यमसेहोगा।

मुख्यमंत्रीत्रिवेंद्रसिंहरावतकीविज्ञानकेक्षेत्रमेंअंतरराष्ट्रीयस्तरकेसेंटरऑफएक्सीलेंसमहाविद्यालयकीस्थापनाकीघोषणाकोजमीनपरउतारनेमेंसरकारऔरउच्चशिक्षाविभागजुटगयाहै।यहपूरीतरहआवासीयऔरस्वायत्तशासीहोगा।मुख्यसचिवओमप्रकाशनेइससंबंधमेंबैठकआयोजितकरदिशा-निर्देशदिएथे।उच्चशिक्षाप्रमुखसचिवआनंदबर्धननेशुक्रवारकोउक्तआदेशोंकाअनुपालनकरनेकेनिर्देशविभागकोदिए।

विज्ञानकेसाथभाषायीपाठ्यक्रमभी

महाविद्यालयमेंविज्ञानकीशाखाओंमेंभौतिकी,रसायन,जीवविज्ञान,वनस्पतिविज्ञान,आनुवांशिकी,जीवरसायन,आणविकजीवविज्ञान,केसाथहीगणित,सांख्यिकी,वित्तीयगणितऔरयूजीसीकेमानककेअनुसारभाषाओंकाअध्ययनभीकरायाजाएगा।भाषाओंमेंहिंदी,अंग्रेजी,एवंविभिन्नविदेशीभाषाओंजर्मन,फ्रेंचकोभीशामिलकियाजाएगा।इसकेअतिरिक्तस्नातकस्तरपरतर्कशास्त्रविषयभीहोगा।स्नातकस्तरपरसंस्कृतविषयकापठन-पाठनवपाठ्यक्रमसंचालितकिएजाएंगे।

संस्थानमेंनहींहोगाबाहरीहस्तक्षेप

महाविद्यालयकेकार्यसंचालनऔरपर्यवेक्षणकोभारतीयविज्ञानसंस्थान(आइआइएस)बेंगलुरुवदिल्लीविश्वविद्यालय(साउथकैंपसशाखा)सेमेंटरसंस्थानकीभूमिकानिभानेकेलिएसरकारसंपर्कसाधेगी।प्रमुखसचिवनेकहाकिइसमेंबाहरीहस्तक्षेपनहींहोगा।प्रशासनिकववित्तीयनियंत्रणकेलिएमहाविद्यालयकारजिस्ट्रारएवंवित्तनियंत्रकराजकीयकार्मिकहोंगे।संस्थानकेचेयरमैनएवंसदस्यआइआइएम-आइआइटीपैटर्नपरहोंगे।

दोचरणोंमेंहोगीप्रवेशपरीक्षा

छात्रोंकेदाखिलेकोहोनेवालीप्रवेशपरीक्षादोचरणोंमेंहोगी।पहलेचरणकीपरीक्षावस्तुनिष्ठप्रकारकीहोगी।दूसरेचरणमेंलिखितपरीक्षाहोगी।इसमें50फीसदछात्रउत्तराखंडऔर50फीसददेशकेअन्यराज्योंकेहोंगे।उधर,शासनकेनिर्देशकेबाददेहरादूनकेजिलाधिकारीनेबालावालामेंकरीब319.288हेक्टेयरभूमिमहाविद्यालयकेलिएचिह्नितकीहै।भूमिवनविभागकीहै।

भूमिकेअंतिमचयनकोसमितिगठित

भूमिकेअंतिमचयनकेलिएउच्चशिक्षासंयुक्तनिदेशकडॉपीकेपाठककीअध्यक्षतामेंतीनसदस्यीयसमितिगठितकीगईहै।समितिकेअन्यसदस्योंमेंउपजिलाधिकारीदेहरादूनवसहायकवनसंरक्षकशामिलहैं।शासननेउक्तसमितिकोचयनितभूमिकास्थलीयनिरीक्षणकरमहाविद्यालयोंकेमानकोंकेमुताबिकभूमिकीउपयुक्तताकेसंबंधमेंएकहफ्तेमेंरिपोर्टदेनेकेनिर्देशदिएहैं।

यहभीपढ़ें:चारदिसंबरकोहोगीडीएलएडकीपरीक्षा,देहरादूनजनपदमेंबनाएगए31केंद्र