UP के बाराबंकी में अखिलेश यादव बोले- पंचायत चुनाव प्रभावित करना चाहती है सरकार

बाराबंकी,जेएनएन। AkhileshYadavinBarabanki: उत्तरप्रदेशकेपूर्वमुख्यमंत्रीवसमाजवादीपार्टीकेराष्ट्रीयअध्यक्षअखिलेशयादवनेशनिवारकोभाजपासरकारपरहमलाकरतेहुएकहाकिवैश्विकमहामारीकेजरियेभाजपालोगोंकेअधिकारछीनरहीहै।सरकारइसकेजरियेपंचायतचुनावप्रभावितकरनाचाहतीहै।उन्होंनेकहाकिलोगोंकीनौकरीचलीगई।डीजलपेट्रोलकेदामआसमानछूरहेहैं।महंगाईबढ़रहीहै।जनतासरकारकेखिलाफआवाजनउठाए,इसलिएतमामप्रतिबंधलगाएजारहेहैं।अखिलेशनेकहाकिबंगालमेंचुनावहैं,लेकिनवहांकोईवैश्विकमहामारीनहींहै।

सपाअध्यक्षनेशनिवारकोसमाजवादीनेताबेनीप्रसादवर्माकीपहलीपुण्यतिथिकेमौकेपरउनकीमूर्तिकेअनावरणकेबादआयोजितश्रद्धांजलिसभामेंकहाकितीननएकृषिकानूनोंकेजरियेभाजपानेकिसानोंकेअधिकारछीनलिएहैं।यहकानूनलागूरहेतोकिसानोंकीजमीनछिनजाएगी।उन्होंनेकहाकिहमकृषिकानूनोंकाविरोधकरेंगेऔरजबभीमौकामिलाइसकानूनकोखत्मकरेंगे।अखिलेशनेबेनीकेबहानेकुर्मीवोटरोंकोसाधनेकीकोशिशकरतेहुएमंचसेकहाकिजिसप्रकारराजनीतिमेंनेताजी(मुलायमसिंहयादव)काबाबूजी(बेनीप्रसादवर्मा)केसाथभावनात्मकरिश्ताथा,उसीतरहमेराऔरउनकेबेटेराकेशवर्माकारिश्ताहै।अखिलेशनेकहाकि2022केचुनावमेंपहलेसेज्यादाकठिनलड़ाईहै,इसलिएहमेंज्यादामेहनतकरनीहैंऔरसतर्करहनाहै।उन्होंनेकहाकिभाजपाकेलोगलगातारसरकारीचीजेंबेचरहेहैं।

कभीअपनीबातसेनहींपलटतेथेबेनी:अखिलेशनेकहाकिपूर्वकेंद्रीयमंत्रीबेनीप्रसादवर्माहमेशासमाजवादीसोचकेसाथरहे।वहएकबारजोबातकहतेथे,वहीकरतेथे।अपनीबातसेकभीनहींपलटतेथे।उन्होंनेकहाकिबाराबंकीसमाजवादीजिलाहै।बाराबंकीजिलेमेंजबभीसपाजीततीहैंतोसरकारबनतीहै।

दरियाबादसेवर्ष1974मेंराजनीतिकसफरकीशुरुआत: गौरतलबहैक‍िपूर्वकेंद्रीयमंत्रीबेनीप्रसादवर्मानेअपनीकार्यशैलीकोलेकरसदैवचर्चामेंरहे।वहताउम्रविकासकीपटकथालिखतेरहे।इसीकार्यशैलीकेचलतेउन्होंनेजिलेकेविकासपुरुषकीख्यातिअर्जितकी।दरियाबादसेवर्ष1974मेंराजनीतिकसफरकीशुरुआतकरनेवालेबेनीबाबूनेगांवसेदिल्लीतककीराजनीतिमेंदखलरखा।उन्होंनेगांवकोब्लाकवतहसीलकादर्जादिलवानेकेसाथहीजिलेमेंसड़कोंकाजालबिछाया,बेरोजगारोंकोरोजगारदिलानेमेंभीअहमभूमिकानिभाई।

कैसरगंजसेचारबाररहेसांसद:उन्होंनेवर्ष1970मेंबुढ़वलचीनीमिलकेकेनयूनियनकेचेयरमैनसेअपनेसियासीसफरकीशुरुआतकी।वर्ष1974मेंदरियाबादसेपहलीबारविधायकचुनेजानेकेबादवर्ष1977,1980और1985मेंमसौलीसेविधायकचुनेगए।वहकैसरगंजलोकसभाक्षेत्रसेवर्ष1996,1998,1999और2004मेंभीयहांसेसांसदरहे।केंद्रसरकारमेंसंचारमंत्रीऔरकेंद्रीयइस्पातमंत्रीभीरहे।

दोस्तीकेलिएठुकराईथीसीएमकीकुर्सी:बेनीबाबूनेदोस्तीकेलिएसीएमकीकुर्सीठुकरादीथी।पिछड़ावर्गअध्यक्षअखिलेशवर्माबतातेहैंकिरालोदकेअजीतसि‍ंह,मुलायमसि‍ंहकोसीएमबनानेकेपक्षमेंनहींथे।बेनीबाबूकानामसीएमपदकेलिएआगेकियागया।बैठकभीहोगई।लेकिनजबबाबूजीकोयहपताचलातोउन्होंनेमुलायमसि‍ंहकीदोस्तीकेकारणसीएमपदकोठुकरादिया।

यहरहीबड़ीउपलब्धियां:उन्होंनेअपनेपैतृकगांवसिरौलीगौसपुरकोनसिर्फब्लाकऔरतहसीलकादर्जादिलवाया,बल्किजिलेमेंविकासकार्योंकीझड़ीलगादी।जिलेमेंसड़कोंकाजालबिछाने,टेलीफोनकीलाइनबिछानेऔरपुलोंकानिर्माणकरानेकेलिएउनकोयादकियाजाताहै। शिक्षकशिवनारायणवर्माबतातेहैंकिसिरौलीगौसपुरतहसील,राजकीयइंटरकालेज,100शैय्याबेड,महमूदाबादअस्पतालसमेतएकदर्जनपीएचसीकानिर्माणकराया।