UP Board: प्रधानाचार्य व प्रबंधक आवास वाले स्कूल नहीं बनेंगे परीक्षा केंद्र Gorakhpur News

गोरखपुर,जेएनएन।परिसरमेंप्रधानाचार्यवप्रबंधकआवासहोनेपरसंबंधितविद्यालयपरीक्षाकेंद्रनहींबनेंगे।यहींनहींयदिविद्यालयपरिसरकेऊपरसेहाईटेंशनतारगुजराहो,छात्रावासहोयाफिरएकहीपरिसरमेंइंटरवडिग्रीकालेजदोनोंहोतोऐसेविद्यालयभीइसबारपरीक्षाकेंद्रकीसूचीसेबाहरहोंगे।परीक्षाकेदौराननकलपरनकेलवपूरीपारदर्शितावशुचिताकेसाथपरीक्षाकरानेकेउद्देश्यसेबोर्डनेयहनिर्णयलियागया।बोर्डकेइसफरमानकेबादविभागीयअधिकारीऐसेविद्यालयोंकीजांचमेंजुटगएहैं।

मानकपूराकरनेकेबादभीऐसेस्कूलोंकोनहींमिलेगीवरीयता

गोरखपुरमेंकुलवर्तमानमेंकुल482विद्यालयहैं।इनमेंबीसराजकीय,135एडेडव327वित्तविहीनविद्यालयशामिलहैं।बोर्डकेनिर्देशपरहरबारकीतरहइसवर्षभीसभीविद्यालयोंनेआधारभूतसुविधाओंकीजानकारीदीहै,लेकिनयदिजांचमेंइनमेंसेकिसीभीविद्यालयमेंबोर्डनेजिनबिंदुओंकोलेकरआपत्तिजताईहैमिलतेहैंतोमानकपूराकरनेकेबादभीवहपरीक्षाकेंद्रोंकीसूचीमेंशामिलनहींकिएजाएंगे।फिलहालनार्मलस्कूलस्थितदृष्टिबाधितबालिकाविद्यालयवदृष्टिबाधितबालकविद्यालयलालडिग्गीइसजदमेंआरहेहैं,जोपरीक्षाकेंद्रनहींबनेंगे।

स्कूलतकपहुंचनेकेलिएदसफीटरोडअनिवार्य

परीक्षाकेंद्रोंकोलेकरबोर्डइसबारविशेषसख्तीबरतरहाहै।इसकाअंदाजाइसीसेलगायाजासकताहैकिपरीक्षाकेदौरानसचलटीमकेस्कूलतकपहुंचनेकेलिएसड़कतकदेखीजारहीहै।जिनस्कूलोंतकपहुंचनेकाकारास्तादसफीटसेअधिकहैउनकोतोहरीझंडीमिलजारहीहै,लेकिनजिनस्कूलोंतकपहुंचनामुश्किलहोरहाहैसत्यापनकरनेवालीटीमउसेउनकीकमियोंमेंदर्जकररहीहै।

केंद्रनिर्धारणनीतिमेंबोर्डनेस्पष्टकरदियाहैकिनिरीक्षणकेलिएजानेवालेउड़नदस्तोंकेचारपहियावाहनोंकोकेंद्रतकपहुंचनेमेंकोईपरेशानीनहोइसलिएपहलीबारयहनियमलागूकियागयाहै।यहनियमराजकीयवसहायताप्राप्तस्कूलोंपरलागूनहींहोगा।सिर्फवित्तविहीनस्कूलहीइसकीजदमेंआएंगे।

परीक्षाकेंद्रनिर्धारणकोलेकरबोर्डनेजोभीमानकतयकिएहैंउसकाशत-प्रतिशतअनुपालनसुनिश्चितकियाजाएगा।स्कूलतकपहुंचनेकेलिएदसफीटसड़ककोभीइसबारबोर्डनेपरीक्षाकेंद्रबननेकेलिएअनिवार्यकियाहै।सत्यापनकेदौरानइसबिंदुपरभीनजररहेगी।-ज्ञानेंद्रप्रतापसिंहभदौरिया,डीआइओएस