ठेकेदार ने एक्सईएन के फर्जी हस्ताक्षर कर पास कराए ढाई लाख के बिल

जागरणसंवाददाता,चरखीदादरी:जनस्वास्थ्यविभागमेंएकठेकेदारद्वाराकार्यकारीअभियंताकेफर्जीहस्ताक्षरकरबिलपासकरवानेकीकोशिशकरनेकेमामलेमेंदादरीसिटीपुलिसद्वारामामलादर्जकरलियागयाहै।पुलिसनेविभागकेअधीक्षकअभियंताकीशिकायतपरठेकेदारकेखिलाफमामलादर्जकियाहै।जनस्वास्थ्यविभागकेअधीक्षकअभियंताविशालबंसलनेपुलिसकोदीशिकायतमेंबतायाकिपहलेउनकीड्यूटीभिवानीमेंबतौरकार्यकारीअभियंताथी।इसदौरान12जनवरी2018से15अप्रैल2018तथाएकसितंबर2018से14सितंबर2018तकउनकेपासदादरीकेकार्यकारीअभियंताकाभीअतिरिक्तकार्यभारथा।

उन्होंनेबतायाकि6दिसंबर2018कोउन्हेंपदोन्नतकरविभागमेंअधीक्षकअभियंताकेपदपरनियुक्तकियागया।इसदौरानउनकेपासदादरीकार्यालयसेकुछबिलडिमांडकेअनुसारचैकहोनेआए।जबउन्होंनेबिलोंकोचैककियातोउनमेंसेतीनबिलोंपरउनकेफर्जीहस्ताक्षरकिएहुएथे।एसईविशालबंसलनेबतायाकिबिलोंपरउनकेफर्जीहस्ताक्षरकेबारेमेंजबउन्होंनेपहलेशिकायतदीथीतोउक्तठेकेदारनेगलतीमानीथी।उन्होंनेपुलिसकोदीशिकायतमेंबतायाकियदिइनबिलोंकाभुगतानहोजातातोइससेठेकेदारकोहीफायदाहोनाथा।उन्होंनेबतायाकिकोईभीबिलपासहोनेकेलिएपूरीविभागीयप्रक्रियाअपनाईजातीहै।लेकिनइसमामलेमेंलगरहाहैकिठेकेदारद्वारायातोअकाउंटब्रांचसेबिलसेसंबंधितकागजातउठाएगएहैयाफिरकर्मचारियोंकेसाथमिलीभगतकरबिलप्राप्तकिएगएहै।उन्होंनेपुलिसमेंदीशिकायतमेंबतायाकियेतीनबिलवर्ष2015-16व2016-17केहै।इनबिलोंसेकरीबढाईलाखरुपयेकाभुगतानहोनाथा।एसईकीशिकायतपरदादरीसिटीपुलिसनेउक्तठेकेदारकेखिलाफमामलादर्जकरलियाहै।साथहीउन्होंनेशिकायतमेंलिखाहैकिइसबातकीभीजांचकीजाएकिविभागकेकर्मचारीभीइसमामलेमेंसंलिप्तहैयानहीं।यदिउनकीभीसंलिप्ततापाईजातीहैतोउनकेखिलाफभीकानूनीकार्रवाईकीजाए।