तमिलनाडु पुलिस ने प्रधानमंत्री किसान योजना में अनियमितताओं की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया

चेन्नई,18सितंबर(भाषा)केंद्रसरकारकीप्रधानमंत्रीकिसानसम्माननिधिमेंकथितअनियमितताओंकीजांचकेलिएतमिलनाडुपुलिसद्वाराएकविशेषजांचदल(एसआईटी)कागठनकियागयाहै।अपराधशाखासीआईडीनेशुक्रवारकोकहाकिबड़ीसंख्यामेंअपात्रकिसानोंकोधोखाधड़ीकेमाध्यमसेयोजनाकालाभपहुंचानेकेआरोपोंकीजांचकेलिएएसआईटीकागठनकियागयाहै।योजनाकेतहतदोहेक्टेयरतककीसंयुक्तभूमि/स्वामित्ववालेछोटेऔरकमआयवालेकिसानोंकोप्रतिवर्षतीनकिस्तोंमे6,000रुपयेकीसहायतादीजायेगी।यहराशिसीधेलाभार्थियोंकेबैंकखातोंमेंस्थानांतरितकियाजाएगा।सीआईडीकीएकविज्ञप्तिमेंकहागया,"कईशिकायतेंमिलीहैंकिकईअपात्रकिसानोंकोअधिकारियोंऔरबाहरीएजेंसियोंकीमिलीभगतकेसाथलाभपहुंचायाजारहाहै।"शिकायतोंकेआधारपर,अपराधशाखासीआईडीकीविभिन्नजिलाइकाइयोंमें13मामलेदर्जकिएगएहैंऔरअबतक52लोगोंकोगिरफ्तारकियागयाहै।इसकेबादडीजीपी,अपराधशाखासीआईडी,आईजीपीअपराधसीआईडीऔरदोपुलिसअधीक्षकोंकेतहतछहडीएसपीऔर18निरीक्षकोंकेसाथएकविशेषजांचदलकागठनकियागयाहै।कृषिसचिवगगनदीपसिंहबेदीकेअनुसार,पिछलेकुछमहीनोंमेंइसयोजनाकेतहततमिलनाडुके13जिलोंमेंलगभग5.5लाखअपात्रव्यक्तियोंकेखातोंमें110करोड़रुपयेजमाकिएगएथेऔर32करोड़रुपयेकीवसूलीकरलीगई।मुख्यमंत्रीकेपलानीस्वामीनेकहाथाकिराज्यसरकारनेघोटालेकाखुलासाकियाऔरसीबी-सीआईडीजांचकाआदेशदिया।