सरकार ने 2018-19 में हुए अतिरिक्त व्यय के लिए संसद से मंजूरी लेने में देरी के आरोप को खारिज किया

नयीदिल्ली,21मार्च(भाषा)वित्तमंत्रीनिर्मलासीतारमणनेसोमवारकोराज्यसभामेंइसबातसेइंकारकियाकिवित्तवर्ष2018-19मेंहुएअतिरिक्तव्ययकेलिएसंसदीयमंजूरीलेनेमेंसरकारनेदेरीकीहै।उन्होंनेवित्तवर्ष2021-22केअनुदानकीअनुपूरकमांगोंतथावित्तवर्ष2018-19केअतिरिक्तअनुदानकीमांगोंपरसदनमेंहुयीचर्चाकेजवाबमेंयहटिप्पणीकी।चर्चाकेदौरानसदस्योंनेकहाथाकिसरकारने2018-19केलिएअतिरिक्तअनुदानकीमांगोंकोअबपेशकियाहै।वित्तमंत्रीनेकहाकियहविषयलोकलेखासमितिकेपासथाऔरउसनेसरकारसेकहाथाकिवहइसअतिरिक्तव्ययकोनियमितकरनेकेलिएसंसदसेमंजूरीले।उन्होंनेकहाकिसरकारकोसमितिकीरिपोर्टफरवरी2021मेंमिलीथीऔरजून2022तकसरकारकोमंजूरीलेनेकेलिएसमयदियागयाथा।उन्होंनेकहाकिसरकारदिएगएसमयसेपहलेहीइसअतिरिक्तव्ययकोमंजूरीदिलानेकाप्रयासकररहीहै।वित्तमंत्रीने2021-22केअनुदानकीअनुपूरकमांगोंकाजिक्रकरतेहुएकहाकिसरकारनेउर्वरकसब्सिडी,नेशनलबैंकफॉरफाइनेंसिंगइंफ्रास्ट्रक्चरएंडडेवेलपमेंट(नाबार्ड)मेंपूंजीडालनेकेलियेअतिरिक्तकोषमांगाहै।उन्होंनेकहाकिइसकेअलावाकईकार्यउम्मीदसेतेजीसेहुएजिनकेलिएउससमयव्ययकरनाजरूरीहुआ।उन्होंनेकहाकिराशिकाएकबड़ाहिस्साआमलोगोंकोयोजनाओंकालाभप्रदानकरनेकेलिएकियागयाथा।उन्होंनेकहाकिसरकारनेयूरियाकीऊंचीलागतकाबोझखुदउठायाऔरइसकाभारकिसानोंपरनहींडाला।वित्तमंत्रीनेकहाकिकेंद्रीयकरोंमेंराज्योंकाहिस्सा2022-23में8.17लाखकरोड़रुपयेरहनेकाअनुमानहैऔरचालूवित्तवर्षकेलिए7.45लाखकरोड़रुपयेकेसंशोधितअनुमानकीराशिपहलेहीजारीकीजाचुकीहै।उन्होंनेकहाकिअनुपूरकअनुदानमांगमेंसार्वजनिकक्षेत्रकीबीमाकंपनियोंमेंपूंजीडालेजानेकोलेकर5,000करोड़रुपयेकाप्रस्तावकियागयाहै।निर्मलासीतारमणनेकहाकिबीमाकंपनीभारतीयजीवनबीमानिगम(एलआईसी)कामूल्यांकनवैज्ञानिकतरीकेसेकियागयाहैऔरइसकाखुलासासेबीकेपासआईपीओकोलेकरजमाविवरणपुस्तिकामेंकियागयाहै।उनकेजवाबकेबादसदननेसंबंधितविनियोगविधेयकोंकोलौटादिया।लोकसभाइन्हेंपहलेहीपारितकरचुकीहै।