संसद में अमर्यादित आचरण करने वाले रास सदस्यों पर हो कार्रवाई, अधिवक्ताओं ने धरना देकर राज्यसभा सदस्यों के खिलाफ जताया विरोध

जागरणसंवाददाता,रामपुर:कृषिविधेयकोंकोलेकरराज्यसभामेंअमर्यादितआचरणकरनेवालेसदस्योंकेखिलाफकानूनीकार्रवाईकीमांगकोलेकरअधिवक्ताओंनेधरनादिया।जिलाधिकारीकेमाध्यमसेराष्ट्रपतिकोज्ञापनभेजा।अधिवक्तामंगलवारकोकचहरीपरिसरमेंइकट्ठाहुए।कृषिविधेयककोलेकरराज्यसभामेंदोदिनपहलेहंगामाकरनेवालेविपक्षकेसदस्योंकेखिलाफधरनादेकरबैठगए।अधिवक्ताओंकाकहनाथाकिदेशकेनागरिकसंसदकोन्यायकामंदिरमानतेहैंऔरयहांबैठनेवालेसदस्यदेवतासमानहैं।उनकेद्वाराबनाएगएकानूनकोसर्वोच्चन्यायालयकेन्यायाधीशस्वयंवअपनेअधीनस्थन्यायाधीशोंकेमाध्यमसेलागूकरातेहैं।उसकानूनकोनमाननेपरअवमाननाकीकार्रवाईहोतीहै।लेकिन,दोदिनपहलेकृषिसंबंधीविधेयकपरकुछसदस्योंनेअमर्यादितभाषाकाप्रयोगकिया।शोरशराबा,तोड़फोड़करकेहंगामाकिया।सदस्योंकेइसआचरणसेउनयुवाओंकीमानसिकतापरगलतप्रभावपड़ेगा,जोदेशसेवाकेलिएराजनीतिमेंआनाचाहतेहैं।ऐसेसदस्योंकोबर्खास्तकियाजानाचाहिएऔरउनकेखिलाफमुकदमादर्जकियाजानाचाहिए।

धरनादेनेवालोंमेंबारएसोसिएशनकेमहासचिवसतनामसिंहमट्टू,पूर्वअध्यक्षश्यामलाल,जाहिदखां,मोहितमेहरोत्रा,महबूबअलीपाशाआदिशामिलरहे।

धरनेमेंशामिलनहींहुएबारअध्यक्ष:अधिवक्ताओंकेमंगलवारकोहुएधरनेमेंबारएसोसिएशनकेअध्यक्षराजेंद्रप्रसादलोधीसमेतकईअधिवक्ताशामिलनहींहुए।हालांकिराष्ट्रपतिकोभेजेज्ञापनपरबारएसोसिएशनकेमहासचिवसतनामसिंहमट्टूकेहस्ताक्षरहैं।इसेलेकरकचहरीपरिसरमेंगुटबाजीकोलेकरचर्चारही।इससंबंधमेंबारअध्यक्षकाकहनाहैकिधरनेकेबारेमेंउन्हेंजानकारीनहींदीगईथी।धरनेसेबारएसोसिएशनकाकोईसंबंधनहींहै।राष्ट्रपतिकोजोज्ञापनभेजागयाहै,वहबारएसोसिएशनकेलेटरपेडपरनहींहै।