श्रमिकों की सहायता के लिए सरकार ने लागू की ई- श्रम योजना

जागरणसंवाददाता,रोहतक:डीसीकैप्टनमनोजकुमारनेबतायाकिसरकारकीई-श्रमयोजनाकेतहतपंजीकरणकरवाकरदोलाखरुपयेतककाबीमामुफ्तप्राप्तकियाजासकताहै।पंजीकृतव्यक्तिकोदुर्घटनापरदोलाखरुपयेतकऔरस्थाईअंग-भंगहोनेपरएकलाखरुपयेतककीसहायताराशिमिलसकतीहै।

प्रदेशसरकारनेअसंगठितक्षेत्रकेश्रमिक,कामगारतथाछोटेवमध्यमकिसानआदिकीसहायताकरनेकेलिएई-श्रमयोजनाशुरूकीहुईहै,जिसकेतहतस्वयंआनलाइनरजिस्ट्रेशनकरवायाजासकताहै।इसयोजनाकेतहतपंजीकृतव्यक्तिकादोलाखरुपयेतककादुर्घटनाबीमामुफ्तहोगाऔरस्थाईअंग-भंगहोनेपरउसेएकलाखरुपयेतककीसहायताराशिमिलेगी।उन्होंनेबतायाकिइसयोजनामें16से59वर्षकीआयुवर्गकेइनकमटैक्सनहीभरनेवालेऔरजिन्हेंइपीएफओएवंईएसआईसीकालाभनहींमिलरहाहै,ऐसेअसंगठितक्षेत्रकेश्रमिक,कामगारतथाछोटेवमध्यमकिसानआदिहीअपनारजिस्ट्रेशनकरवासकतेहैं।

-सीएससीपरकरवाएंरजिस्ट्रेशन

योजनाकालाभलेनेकेलिएव्यक्तिकोअपनेनजदीकीसीएससीसेंटरपरजाकरअपनारजिस्ट्रेशनकरवानाहोगा।व्यक्तिखुदभीपोर्टलपरजाकरअपनावअपनेपरिवारकेसदस्योंकारजिस्ट्रेशनकरसकताहै।रजिस्ट्रेशनकेलिएकोईफीसनहींलीजातीहै।ई-श्रमयोजनाकालाभलेनेकेलिएश्रमिकोंकीश्रेणीमेंछोटेऔरमध्यमकिसान,खेतोंमेंकामकरनेवालेमजदूर,मनरेगायोजनाकेश्रमिक,पशुपालनश्रमिक,सब्जीऔरफलरेहड़ीलगानेवाले,घरेलूकार्यकरनेवालेव्यक्ति,आशावर्कर,रिक्शायाआटोरिक्शाड्राईवर,लकड़ीकाकामकरनेवाले,दूधविक्रेता,प्रवासीश्रमिक,ईंटयापत्थरकाकामकरनेवालेव्यक्ति,भवनवअन्यनिर्माणकार्यमेंलगेश्रमिकआदिआतेहैं।