शिक्षा द्वारा छू सकते हैं सफलता के सभी आयाम : पर¨मद्र ¨सह

जागरणसंवाददाता,कुरुक्षेत्र:किड्जीस्कूलकेप्रबंधकपर¨मद्र¨सहनेसभीबच्चोंकोअपनी-अपनीकक्षाओंमेंउत्तीर्णहोनेपरबधाईदी।उन्होंनेकहाकिबच्चोंकासर्वागिणविकासविद्यालयकाप्रथमप्रयासहै।उन्होंनेबतायाकिशिक्षाग्रहणकरनाहमारेजीवनकासबसेपहलाकदमहै।शिक्षाकेबिनाहमारेजीवनमेंकुछभीकार्यकरपानासंभवनहींहै,क्योंकिहमजोभीबोलतेहैं,सुनतेहैंऔरकहतेहैंसबशिक्षाग्रहणकरनेकेपश्चातहीकरपानासंभवहै।वेस्कूलकेवार्षिकउत्सवमेंबोलरहेथे।कार्यक्रममेंवार्षिकपरीक्षापरिणामभीजारीकियागया।

उन्होंनेकहाकिएकशिक्षितव्यक्तिसंपूर्णविश्वकोअच्छेसेसमझसकताहैऔरजानसकताहैपरंतुएकअशिक्षितव्यक्तिकेवलअपनेविचारोंकोबतासकताहै,लेकिनएकशिक्षितव्यक्तिकीतरहसमाजकोबदलनेकीनहींसोचसकता।इसलिएहमाराशिक्षितहोनाहमारेजीवनकाएकमहत्वपूर्णअंगहै,क्योंकिआजकेसमयमेंबिनाशिक्षाकेलोगोंकेपासकुछभीकरपानासंभवनहींहै।कार्यक्रममेंवार्षिकपरीक्षापरिणामआयोजितकियागया।जिसमेंकक्षानर्सरीसेसीनियरकेजीकेबच्चोंकापरीक्षापरिणामघोषितकियागया।कक्षानर्सरी,जूनियरकेजीएवंसीनियरकेजीके175बच्चोंनेआगामीवर्षकीकक्षाओंमेंकियाप्रवेश।