प्रखंड का चक्कर लगा रहे कन्या विवाह योजना के लाभुक

शिवहर।सरकारप्रायोजितकन्याविवाहयोजनाकातरियानीप्रखंडक्षेत्रमेंबुराहै।लाभार्थियोंकोससमययोजनाकालाभमिलनातोदूरशादीकेकरीब5सालबीतजानेकेबादभीलाभार्थियोंकोदरदरभटकनापड़रहाहै।हदतोयहहैकिवित्तीयवर्ष2013सेलेकरचालूवित्तीयवर्ष2017-18तकप्रखंडकार्यालयमेंहजारोंअभ्यर्थियोंनेआरटीपीएसकाउंटरसेआवेदनजमाकिया,लेकिनअबतकलाभुकोंकोउक्तयोजनाकालाभनहींमिलसकाहै।हालातयहहैकिदर्जनोंनवविवाहितालाभुकयोजनाकेचेककाइंतजारकरतेकरतेससुरालचलीगई।इतनाहीनहींकितनीतोमांभीबनगई।सरकारीअस्पतालसेमातृत्वलाभकाभीहकदारहोगई।हास्यास्पदएवं¨चतनीयस्थितियहहैकिदर्जनोंलाभुकअपनाबच्चागोदमेंलिएकन्याविवाहयोजनाकीराशिपानेकेलिएप्रखंडकार्यालयकाचक्करलगारहीहै।कार्यालयसूत्रोंसेमिलीजानकारीकेअनुसारअबतक3000सेअधिकऐसेलंबितआवेदनहैंजिन्हेंदेयराशिकाचेकमुहैयानहींकरायाजासकाहै।वहींसूत्रोंकीमानेंतोचालूवित्तीयवर्षमेंभीशत-प्रतिशतअभ्यर्थियोंकेभुगतानमेंसंदेहहै।सूत्रोंकीमानेतोएकवित्तीयवर्षमें10-12लाखरुपयेहीआवंटनकेरूपमेंप्राप्तहोताहैजोपांचहजाररुपयेकीदरसेकरीब300लाभार्थियोंकेबीचवितरितकियाजानाहै।हालातयहहैकिदर्जनोंनवविवाहिताओंकाप्रखंडकार्यालयकाचक्करलगानाउसकीनियतिबनगयीहै।-क्याहैप्रावधान

मुख्यमंत्रीकन्याविवाहयोजनाकेतहत18वर्षसेअधिकउम्रकीकन्याओंकीशादीकेबादसंबंधितपंचायतकार्यालयसेरजिस्ट्रेशनकरानेकेबादप्रखंडकार्यालयमेंआवेदनदेनेपरनवविवाहिताकन्याकोपांचहजाररुपयेकाचेकदेनेकाप्रावधानहै।इसकेलियेअभ्यर्थीकेपिताकाबीपीएलधारीहोना,60हजाररुपयेसेकमवार्षिकआयकाहोनाजरूरीहोताहै।योजनाकालाभलेनेकेलिएप्रखंडकार्यालयकाचक्करलगारहीप्रखंडक्षेत्रकीमीराकुमारी,रेणूदेवी,किरणकुमारी,रौशनीदेवी,¨रकीदेवी,प्रियंकादेवी,सुनीतादेवीआदिनेबतायाकि2014मेंहीआरटीपीएसकेमाध्यमसेजमाकियाथा।लेकिनअबतकभुगताननहींमिलाहै।प्रखंडविकासपदाधिकारीडॉ.संजयकुमार¨सहकाकहनाहैकिप्रत्येकवित्तीयवर्षमेंजितनीराशिदीजातीहैप्रतीक्षासूचीकेअनुसारलाभुकोंकेबीचवितरितकरदियाजाताहै।वहींपर्याप्तआवंटननहींमिलनेकेकारणलाभार्थियोंकोभुगतानसेवंचितहोनापड़रहाहै।