परीक्षा समय में कटौती विद्यार्थियों को नहीं आई रास, नए अंदाज में हुई परीक्षा

जागरणसंवाददाता,झज्जर:कोरोनामहामारीकेबीचकरीब7-8माहकेबादविद्यार्थीकालेजपहुंचे।लंबेअंतरालकेबादनएअंदाजमेंअपनेसहपाठियोंसेमिले।कालेजमेंप्रवेशकरतेहीमुंहपरलगेमास्ककेसाथसहपाठियोंकेदर्शनहुए।वहींनजरेंभीअपनेसहपाठियोंकोतलाशतीनजरआई।सहपाठियोंसेमिलकरसभीकेचेहरेखिलेहुएनजरआए।समयसेकालेजपहुंचेविद्यार्थियोंनेअपनेकोरोनाकालकेकुछअनुभवभीसांझाकिए।वहींपरीक्षाकाजिक्रकरतेनजरआए।

इसबारविद्यार्थियोंनेएकनएअंदाजमेंपरीक्षादी।परीक्षाकासमयढाईघंटेसेघटाकर45मिनटकरनाविद्यार्थियोंकोरासनहींआया।वहींअंकभी80सेघटाकर40करदिएगए।विद्यार्थियोंकीसुविधाकेलिएबहुविकल्पीयप्रश्नपेपरमेंदिएगए।वहींपरीक्षाकेंद्रमेंप्रवेशकेदौरानकालेजप्रशासनकोथर्मलस्क्रीनिगवविद्यार्थियोंकेहाथसैनिटाइजकरनेकीउचितव्यवस्थाकीथी।एकयासवाघंटेकीहोनीचाहिएथीपरीक्षा

महाराजाअग्रसेनमहिलामहाविद्यालयकीबीएअंतिमवर्षकीछात्राआरतीनेबतायाकिउसकीअंग्रेजीकीपरीक्षाथी।समयबहुतकमदियागयाथा।45मिनटकीबजायएकयासवाघंटादेतेतोअच्छाहोता।इतनेकमसमयमेंपरीक्षाकरनामुश्किलथा।छात्रामनीषानेकहाकिअगरसमयअधिकमिलतातोपरीक्षाभीअच्छीहोती।समयमेंअधिककटौतीकीगईहै।बहुविकल्पीयप्रश्नतोदिएहैं,लेकिनउन्हेंकरनेमेंभीसमयलगताहै।छात्रावर्षावज्योतिनेकहाकिलंबेसमयकेबादसहपाठियोंसेमिलकरबहुतअच्छालगा।