प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत काफी कम लोगों को मिला काम

पूर्णिया।कोविड-19केदौरानप्रवासीमजदूरोंकोअपनेहीक्षेत्रमेंरोजगारमुहैयाकरानेहेतुप्रधानमंत्रीद्वाराप्रधानमंत्रीगरीबकल्याणयोजनालागूकीगईलेकिनइसकासमुचितलाभश्रमिकोंकोनहींमिलपायाहै।तटवासीसमाजन्याससंस्थाद्वाराकिएसर्वेमेंकाफीकमलोगोंकोइसकालाभमिलनेकीबातसामनेआईहै।

प्रधानमंत्रीगरीबकल्याणयोजनाकेतहतप्रवासीमजदूरोंकोमनरेगाअंतर्गत125दिनोंकाकाममुहैयाकरानाहै।इसयोजनाकेतहतकामगारोंकोउनकीदक्षताकेहिसाबसे25तरहकाकामदियाजानाहै।इसकेतहतग्रामीणआवास,ग्रामीणसड़क,पौधारोपण,जलजीवनहरियाली,बागवानीआदियोजनाशामिलहैं।तटवासीसमाजन्यासकेजिलासमन्वयकराजेशमेहतानेबतायाकिउनकीटीमनेपूर्णियाजिलेकेपांचगांवोंमेंसर्वेकियागयाहै।पूर्णियापूर्वकेविभिन्नपंचायतोंमेंसिर्फ15फीसदप्रवासीश्रमिकोंकोहीमनरेगाकेतहतजॉबमिलनेकीबातसामनेआई।सर्वेमेंयहसामनेआयाहैकि60से70प्रतिशततकश्रमिकोंकेपासजॉबकार्डउपलब्धहैं,लेकिनउन्हेंमनरेगाकेतहतकुछदिनोंकाहीकाममिलाहै।कईश्रमिकोंकोप्रधानमंत्रीगरीबकल्याणयोजनाकेतहतकाममिलनेकीप्रक्रियाकीजानकारीतकउपलब्धनहींथी।

जिलेकेपांचगांवोंमेंसर्वेमेंग्रामीणोंसेबातचीतमें20प्रतिशतऐसेपरिवारमिलेजिनकेपासनराशनकार्डहैऔरनहीउन्हेंप्रधानमंत्रीगरीबकल्याणयोजनाकेबारेमेंजानकारी।इसकारणउन्हेंरोजमर्राकीजरूरतोंकोपूराकरनेकेलिएवापसपलायनकरनापड़रहाहै।इसक्षेत्रके40प्रतिशतपरिवारविभिन्नशहरोंकेलिएपलायनकरचुकेहैं।40प्रतिशतऐसेपरिवारहैंजोइसकोरोनामहामारीकेदिनोंमेंदसहजारसेलेकरतीसहजारतककालोनचारसे10प्रतिशतकीदरसेमहाजनसेलियाहै।15प्रतिशतलोगऐसेहैंजिन्होंनेराशनकार्डकेलिएआवेदनदियाथालेकिनअभीतकउनकेपासउनकाराशनकार्डनहींपहुंचपायाहै।

सर्वेकेमुताबिक25प्रतिशतप्रवासीमजदूरोंकेपासअपनाजॉबकार्डहैऔरमहज5प्रतिशतमजदूरोंकोबहुतकमदिनोंकाकाममिलपायाहै।कामकरायेगए5प्रतिशतमजदूरोंकोअभीभीपूराभुगताननहींमिलपायाहै।