प्रौद्योगिकी एक सेतु है, न कि विभाजक:प्रधानमंत्री मोदी

नयीदिल्ली,20अक्टूबर(भाषा)प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेरविवारकोइसबातपरजोरदियाकिप्रौद्योगिकीएकसेतुहै,नकिविभाजक।उन्होंनेयहभीकहाकिप्रौद्योगिकीकोलेकरभयकामाहौलपैदाकरनेकीकोशिशजारहीहै।प्रधानमंत्रीनेअपनेआधिकारिकआवासमेंएकपुस्तककेविमोचनकेअवसरपरमौजूदलोगोंकोसंबोधितकरतेहुएकहा,‘‘खासतौरपरभारतकेसंदर्भमेंप्रौद्योगिकीकोदेशकीजनसंख्याकेलाभांशकेलिएचुनौतीकेरूपमेंपेशकियाजारहाहै।’’मोदीनेकहा,‘‘कृत्रिमबुद्धिमत्तायाकबरोबोटइनसानपरहावीहोजाएंगे,परबहसनहींहोनीचाहिए।बल्किबहसइसबातपरहोनीचाहिएकिकैसेमानवीयउद्देश्योंऔरकृत्रिमबुद्धिमत्ताकेबीचसेतुबनायाजाए।’’प्रधानमंत्रीकार्यालयद्वाराजारीएकबयानकेमुताबिकउन्होंनेकहा,‘‘प्रौद्योगिकीएकसेतुहै,नकिएकविभाजक।’’उन्होंनेकहाकिप्रौद्योगिकी,सबकासाथ,सबकाविकास’हासिलकरनेकेलिएआकांक्षाओंऔरउपलब्धि,मांगऔरप्रदायगी,सरकारऔरशासनकेबीचसेतुकानिर्माणकरतीहै।उन्होंनेकहाकितेजीसेबढ़तेआकांक्षीभारतकेलिएसकारात्मकता,रचनात्मकताऔररचनात्मकमानसिकताजरूरीहै।उन्होंनेकृत्रिमबुद्धिमत्ताऔरमानवीयइरादोंकेबीचसेतुबनानेकीआवश्यकतापरभीजोरदिया।प्रधानमंत्रीनेप्रौद्योगिकीद्वाराउत्‍पन्‍नकीगईचुनौतियोंकोअवसरोंमेंबदलनेकीआवश्यकताकाउल्‍लेखकरतेहुए‘इंडियापोस्टपेमेंटबैंक’बनानेकाउदाहरणदिया।उन्होंनेकहाकिपूरेडाकसंगठनकेलिएप्रौद्योगिकीद्वाराउत्‍पन्‍नव्यवधानकोएकप्रौद्योगिकीसघनबैंकिंगप्रणालीमेंबदलदियागया,जिससेडाकबैंककेमाध्यमसेलाखोंलोगलाभान्वितहुए,जिसने'डाकियाकोबैंकबाबू'मेंबदलदिया।‘‘ब्रिजिटलनेशन’’पुस्तकटाटासंसकेअध्यक्षएनचंद्रशेखरनऔरटाटासंसमेंमुख्यअर्थशास्त्रीरूपापुरुषोत्तमद्वारालिखीगईहै।इसअवसरपरटाटासंसके‘चेयरमैनएमेरिटस’रतनटाटाभीउपस्थितथे।