फरियाद सुनाना है तो 10 रुपये खर्च करिए

सुलतानपुर:आपूर्तिविभागमेंफरियादलेकरआरहेकार्डधारकोंसेवसूलीकीजारहीहै।दैनिकजागरणकीटीमकोदेखशनिवारकोवसूलीकररहेबाहरीव्यक्तिभागखड़ेहुए।कार्डधारकोंनेबतायाकिप्रार्थनापत्रलिखनेकेनामपर10रुपयेवसूलाजारहाहै।अधिकारियोंकेसमक्षशिकायतकरनेपरभीकार्रवाईनहींकीजारहीहै।

इनदिनोंआपूर्तिविभागमेंराष्ट्रीयखाद्यसुरक्षायोजनाकेतहतगरीबपरिवारोंकाचिह्नांकनकियाजारहाहै।लोगोंसेआवेदनलिएजारहेहैं।आवेदनपत्रकोजांचकेलिएपूर्तिनिरीक्षककेपासभेजाजारहाहै।वहांसेपात्रताकीस्वीकृतिमिलनेपरसूचीमेंशामिलहोनेकीप्रक्रियाशुरूकीजारहीहै।शासनकेनिर्देशपरयहविशेषअभियानचलरहाहै।शनिवारकीदोपहरएकबजेदैनिकजागरणकीटीमआपूर्तिविभागपहुंचीतोप्रार्थनापत्रनहींलिखनेकीशिकायतलेकरसिरवारारोडनिवासीमिल्कीइस्लामपूर्तिनिरीक्षकरामकुमारआर्याकेपासपहुंचीं।कहाकिसबसे10-10रुपयेलेकरप्रार्थनापत्रलिखाजारहाहै।हमारेपैसादेनेपरभीकामनहींकियाजारहाहै।कटहलवालीबागकेनिकटसेआईरेनू,करौंदियादेहातसेआईमंजूनेभी10रुपयेलिएजानेकीबातस्वीकारकी।कार्डधारकोंकीसमस्याएंसुनरहेपूर्तिनिरीक्षकरामकुमारआर्यानेकहाकिबाहरीव्यक्तिप्रार्थनापत्रलिखनेकेलिए10रुपयेलेतेहैं।कुछफरियादीसेविवादहोगयाथाजिसकीवजहसेउसकाप्रार्थनापत्रनहींलिखागया।

10रुपयेलेकरप्रार्थनापत्रलिखनेवालोंकाविभागसेकोईनातानहींहै।जोपढ़नालिखनानहींजानतेहैं,वेलोगहीउनकीमददलेतेहैं।मैंजय¨सहपुरजांचमेंआयाहूं।

संजयप्रसाद,जिलापूर्तिअधिकारी

अनपढ़वनियमकायदोंसेअनजानफरियादियोंसे10रुपयेलियाजानासरासरगलतहै।इसकीजांचकराईजाएगी।कार्डधारकोंकेबयानलिएजाएंगे।डीएसओकोतलबकरपूछताछकीजाएगी।

राजकेश्वर,प्रभारीडीएम