फैसले ने हमारा गला दूसरी बार रेता,सभी 13 सजायाफ्ता के हाईकोर्ट से बरी होने से सवालों के घेरे में पूरा सिस्टम

पटनाहाईकोर्टद्वारासेनारीनरसंहारके13दोषियोंकोसाक्ष्यकेअभावमेंबरीकियाजानेकेबादसेनारीगांवएकबारफिरसुर्खियोंमेंहै।अरवलजिलामुख्यालयसे33किलोमीटरदूरवंशीथानाक्षेत्रकेसेनारीगांवकेग्रामीण22सालपहले18मार्च1999कीकालीरातकामंजरआजभीनहींभूलेहैं।इसघटनाकेचारचश्मदीदबचेथे।जिसमेंएककीमौतहोगई।

तीनजीवितहैंजिसमेंसेदोगांवमेंहीरहतेहैं।उसहादसेमेंमौतकेमुंहसेबाल-बालबचेदोलोगोंसेदैनिकभास्करकीटीमनेबातकी।उसघटनाकोयादकरआजभीवोसिहरजातेहैं।गलारेतनेकेबादभीजीवितबचेअजयशर्मावश्रीमोहनशर्मानेकहा-फैसलेनेदूसरीबारहमारागलारेता।हालांकिइसमामलेमेंउन्हेंगवाहभीनहींबनायागयाथा।

एक-एककरसभी37लोगोंकोइकट्‌ठाकिया,गलारेता

वहकालीऔरभयावहरातथीजबनक्सलियोंनेकत्लेआममचायाथा।हमखलिहानमेंथे।अचानकगांवमेंशोरगुलकीआवाजसुनाईदीतोभागा-भागाघरकीतरफआया।जैसेहीघरपहुंचातोनक्सलियोंनेपकड़लियाऔरहाथबांधकरठाकुरबाड़ीकेपासलेगए।वहांकामंजरदिलदहलानेवालाथा।बारी-बारीसेलोगोंकागलाकाटाजारहाथा।कुछदेरबादउन्होंनेमेरागलाभीरेतदिया।

मेरेगलेसेखूनकीधारनिकलपड़ीऔरहमगिरपड़े।इसकेबादउन्होंनेमुझेमरासमझकरछोड़दियाऔरदूसरेलोगोंकीतरफबढ़गए।मैंकुछदेरतकवैसेहीलेटारहा।थोड़ीदेरबादकुछलोगफिरलौटे।उन्होंनेलातऔरराइफलकेबटसेमारकरदेखा।मैंउसीमरनासन्नस्थतिमेंलेटारहा।फैसलेसेमैंपूरीतरहनिराशहूं।

रेडियोपरवाजपेयीकाभाषणसुननेबैठेकिनक्सलीआगए

शामकेलगभगसवासातबजेरहेहोंगे।हमअपनेघरकेबाहरसड़ककिनारेएकभाईसमेतअन्यपांचलोगोकेसाथरेडियोपरप्रधानमंत्रीअटलबिहारीवाजपेयीकारेडियोपरसंदेशसुनरहेथे।तभीपुलिसकीड्रेसपहनेहुएबड़ीसंख्यामेंहथियारोंसेलैसनक्सलीआधमके।उन्होंनेयहकहतेहुएहमसबकोठाकुरबाड़ीकेपासलेगएकिवहांकुछआदमीहैंऔरउसकीपहचानकरनीहैकिवहरणवीरसेनाकाआदमीहैयानही।

वहांजानेकेबादउनलोगोंनेहमारेहाथऔरपैररस्सीसेबांधदिए।वहांगांवकेही40लोगोंकोलाकरबारी-बारीसेसबकागलारेताजानेलगा।उन्होंनेमेराभीगलारेतदिया।मैंगिरगयाऔरमरनेकाबहानाबनाकरलेटारहा।लेकिनदरिंदोकोमेरेमरनेपरविश्वासनहीहुआतोउन्होंनेमेरेपेटमेदोतीनस्थानोंपरचाकूसेगोददियाऔरचलेगए।

महाधिवक्ताबोले-इसफैसलेसेसंतुष्टनहींहूं,सुप्रीमकोर्टजाएंगे

हाईकोर्टनेनिचलीअदालतकेफैसलेऔरट्रायलकेदौरानपेशकिएगएसाक्ष्योंकोनहींमानाऔरसंदेहकालाभदेतेहुएदोषियोंकोबरीकरदिया।हमसंतुष्टनहींहैं।फैसलेकेखिलाफसुप्रीमकोर्टजाएंगे।ललितकिशोर,महाधिवक्ता

पूर्वजजनेकहा-ऐसेमामलोंमेंव्यापकदृष्टिकोणकीजरूरत

यहबहुतहीदुखदहैकिअबतकहुएसभीनरसंहारोंकेआरोपीकोसजानहींदीजासकीहै।हाईकोर्टकोइसतरहकेमामलोंमेंव्यापकदृष्टिकोणरखनेकीजरुरतहै।

बीरेंद्रप्रसादवर्मा,रिटायर्डजज,पटनाहाईकोर्ट​​​​​​​

पूर्वडीजीपीबोले-पुलिससहीप्रक्रियाकापालनहीनहींकरती

अदालतमेंडिफेंसलॉयरइसीकोइंगितकरतेहैंकिपुलिसनेकहां-कहांप्रक्रियाकापालननहींकियाअभियुक्तोंकाबरीहोनासाक्ष्यकाअभावनहीं,बल्किजांचमेंप्रक्रियाकापालननहींहोनाहै।

अभयानंद,पूर्वडीजीपी,बिहार​​​​​​​