नोटिस के बाद भी नहीं आए प्रधानाचार्य

जागरणसंवाददाता,मैनपुरी:वित्तविहीनकॉलेजसंचालकोंकीमनमानीकानमूनाशुक्रवारकोबोर्डपरीक्षाकीतैयारियोंकीबैठकमेंदेखनेकोमिला।एककॉलेजकेप्रधानाचार्यनोटिसकेबादभीबैठकमेंप्रतिभागकरनेकेलिएनहींआए।जिसपरविभागअबइसकॉलेजसेपरीक्षाकेंद्रहटाएजानेकीतैयारीशुरूहोगईहै।

बोर्डपरीक्षामेंकिसीप्रकारकीकोईगड़बड़ीनहोइसकेलिएजिलाधिकारीने26दिसंबरकोटीईपीसेंटरमेंसभीपरीक्षाकेंद्रबननेवालेकॉलेजोंकेप्रधानाचार्योंकीबैठकबुलाईथी।जिसमेंनकलविहीनपरीक्षाकराएजानेकेलिएतैयारियोंवबोर्डकेनिर्देशोंपरचर्चाकीजानीथी।लेकिनइसबैठकमें38प्रधानाचार्योंनेप्रतिभागहीनहींकिया।जिलाधिकारीनेइनसभीप्रधानाचार्योंकोनोटिसजारीकरतेहुएफिरसेइन्हें29दिसंबरकोआदर्शराष्ट्रीयइंटरकॉलेजमेंआयोजितबैठकमेंप्रतिभागकरनेकेनिर्देशदिएथे।नोटिसमिलनेकेबाद37प्रधानाचार्यतोबैठकमेंपहुंचगए,लेकिनपं.रामेश्वरदयालइंटरकॉलेज,हदुआकेप्रधानाचार्यबैठकमेंशामिलनहींहुए।जिलाधिकारीप्रदीपकुमारनेसभीप्रधानाचार्योंकोकॉलेजमेंसीसीटीवीलगवानेवनकलविहीनपरीक्षाकरानेकेनिर्देशदिए।सूत्रोंकेअनुसारपं.रामेश्वरदयालइंटरकॉलेजकेप्रधानाचार्यद्वाराबैठकमेंप्रतिभागनकिएजानेसेनाराजजिलाविद्यालयनिरीक्षकनेइसकॉलेजसेपरीक्षाकेंद्रहटानेकेनिर्देशदिएहैं।जिसकेबादविभागनेदूसरेकॉलेजकोपरीक्षाकेंद्रबनाएजानेकेलिएतैयारीभीशुरूकरदीहै।

जिलाविद्यालयनिरीक्षकजीएसराजपूतनेबतायाकिप्रधानाचार्यद्वारानोटिसकेबादभीबैठकमेंप्रतिभागनकरनाघोरलापरवाहीहै।उच्चाधिकारियोंकेनिर्देशकेअनुसारहीकार्रवाईकीजाएगी।