मतदान को ले युवाओं व महिलाओं में दिखा खासा उत्साह

जाटी,चतरा:युवाओंऔरमहिलाओंमेंमतदानकोलेकरखासाउत्साहदेखागया।दोनोंकीअच्छीखासीभागीदारीदेखनेकोमिलीहै।सुबहसेलेकरअंतिमसमयतकयेदोनोंवर्गकेंद्रोंमेंकतारबद्धरहे।हालांकियहांसेभाग्यआजमानेवालेउम्मीदवारोंमेंमहिलानहींहैं।लेकिनउसकेबादभीउनकीभागीदारीशानदाररहीहै।बल्कियूंकहेंकिलोकतंत्रकेउत्सवमेंआधीआबादीनेअपनेसंवैधानिककर्तव्योंमेंपीछेनहींरहीं।शहरसेलेकरग्रामीणक्षेत्रोंकेमतदानकेंद्रोंतकवहमतदानकेलिएसक्रियभूमिकामेंनजरआईं।कुछकेंद्रोंमेंएकसेदोघंटातककतारबद्धरहीं।ठंडकाकोईपरवाहनहींकिया।कुछकेंद्रोंपरमतदानकीशुरूआतमहिलाओंनेहीकी।अर्थातपहलावोटउन्होंनेहीडाला।सदरप्रखंडकेब्राह्माणापंचायतकेबरैनीगांवस्थितराजकीयकृतमध्यविद्यालयमेंतीनकेंद्रबनाएगएथे।जिसकाक्रमसंख्या320,321एवं322है।इनतीनोंकेंद्रोंपरपुरुषसेअधिकमहिलावोटरोंकीउपस्थितिदेखनेकोमिली।वोटकेलिएकतारबद्धकलावतीदेवीकहतीहैंकिमतदानउनकासंवैधानिकअधिकारहै।उसीकाप्रयोगकेलिएवहयहांआईहै।एकघंटातकप्रतीक्षाकेबादउन्होंनेमतदानकिया।मतदानकेबादवहप्रशन्नमुद्रामेंघरलौटी।इसीकेंद्रमेंबरैनीगांवकीसुमनतीदेवीभीवोटिगकेलिएखड़ीथी।सुमनतीकहतीहैंकिपांचसालमेंयहमौकामिलताहै।वोटिगकरनाराष्ट्रीयकर्तव्यहै,लोगोंकोबढ़चढ़करहिस्सालेनाचाहिए।इधरस्थानीयस्थानीयराज्यसंपोषितबालकउच्चविद्यालयकेंद्रसंख्या446मेंवोटिगकेलिएआए18वर्षीयसुमितकुमारकहतेहैंकिपहलीबारवोटकरनेकाअवसरमिलाहै।मतदानकोलेकरकाफीउत्साहितहूं।बहरहालमहिलाएंऔरयुवावोटमतदानकेप्रतिजबर्दस्तउत्साहितनजरआए।