MP News: सास, बहू और पोते ने एक साथ परीक्षा दी, नजारा देखकर चौंक गए लोग

रिटायर्डशिक्षिकाहैं80सालकीसरोजअरोरा

छिंदवाड़ाजिलेमेंसमाजकेसामनेएकआदर्शउदहारणपेशकरनेयहकारनामासरोजअरोराने80वर्षकीउम्रमेंकिया.सरोजअरोरारिटायर्डशिक्षिकाहै,जोइंदिरागांधीमुक्तविश्वविद्यालयकेमान्यताप्राप्तसेंटरडेनियलसनडिग्रीकॉलेजमेंडिप्लोमाइनफूडएंडन्यूट्रिशनकीपरीक्षादेरहीहैं.परीक्षाउत्तीर्णकरनेकेबादवेएकसर्टिफाइडडाइटिशियनऔरआहारविशेषज्ञबनजाएंगी.80सालकीउम्रमेंपरीक्षादेनेकेसरोजअरोराकेजज्बेकोदेखकरपरीक्षाकेंद्रकेप्रभारीसहितहरकोईआश्चर्यचकितहैऔरउनकीतारीफ़करतेनहींथकरहाहै.

IndoreCrime:बोरिंगकेदौरानधूलउड़नेकोलेकरदोगुटोंमेंविवाद,20सालकेयुवककीचाकूमारकरहत्या,जानें-पूरामामला

पोताऔरबहूभीदेरहेहैंइसीकोर्सकेलिएपरीक्षा

परीक्षाकेंद्रमेंएकऔररोचकनजारादेखनेकोमिला,जहांअरोरापरिवारकीतीनपीढ़ियोंएकसाथ,एकहीदिन,एकहीडिग्रीकेलिएपरीक्षादेरहीथी.दरअसलसरोजअरोराकीहोम्योपैथीडॉक्टरबहूडॉ.सुनीताअरोराउम्र47सालऔरउनकापोताओमबत्राउम्र24वर्षसालजोफूडटेक्नोलॉजीमेंदिल्लीसेबी.टेक.डिग्रीधारीहैं,भीउनकेसाथपरीक्षादेनेआयेथे.

इससंबंधमेंसरोजअरोरानेबतायाकि,"अध्ययनकेप्रतिउनकेपूरेपरिवारकीविशेषरूचिरहतीहै.उन्हेंइसउम्रमेंभीविश्वविद्यालयकीपढ़ाईकरनेकीप्रेरणाउनकेपुत्रडॉ.गौरवअरोराऔरपुत्रवधुडॉ.सुनीताअरोरासेप्राप्तहुई."उन्होंनेआहेबतायाकि,"उनकीपुत्रवधुनेरानीदुर्गावतीविश्वविद्यालयजबलपुरसेबी.एच.एम.एस.कीसाढ़ेपांचवर्षीयग्रेजुएशनकोर्समें,सबसेअधिकअंकप्राप्तकियाथाऔर46सालकीउम्रमेंगोल्डमैडलकेसाथडॉक्टरकीडिग्रीप्राप्तकी.सरोजअरोरानेग्रेजुएशनमेंबहुकेगोल्डमैडलजीतनेकीउपलब्धिपरउन्होंनेकहाकि,"जबलपुरविश्वविद्यालयकेइतिहासमेंयहअद्वितीयउपलब्धिरहीहै."

परिवारकोमानसिकस्थितिसेउबारनेकेलिएकियायहकाम

सरोजअरोराकीबातेंभीबहुतप्रेरणादायकहैं.उन्होंनेबतायाकि,"पिछलेमाहउनकेपतिइंजीनियरबीरबलअरोराकास्वर्गवासहोगयाथा.इसवजहसेवहऔरउनकापूरापरिवारमानसिकरूपसेपरेशानऔरशोकग्रस्तथे,लेकिनजल्दीहीअवसादसेनिकलकरदोबारापूरेउत्साहऔरजोशकेसाथउन्होंनेअपनेपरिवारकोएकजुटकरकेतालीमहासिलकरनेमेंलगादिया."सरोजअरोरानेबतायाकि,"इससेपूरेपरिवारकाध्याननकारात्मकविचारोंसेहटकरसकारात्मकअध्ययनकीओरलगगया."

बुजुर्गसाथियोंकोसंदेशदेतेहुएसरोजअरोरानेयहकहा

सरोजअरोरानेअपनीहमउम्रबुजुर्गसाथियोंकोसंदेशदेतेहुएकहाकि,"खुदकोरिटायरऔरबेकारसमझनेकेबजायअपनीउर्जाकाउपयोगसकारात्मककामोंमेंलगानाचाहिए,जिससेकिवृद्धावस्थाखुशनुमाऔरसुखदहोजाताहै."उन्होंनेआगेकहाकि,"उम्रकेकारणशरीरमेंहोनेवालेपरिवर्तनोंऔरकमजोरीकोरोकातोनहींजासकतालेकिनव्यायाम,योगा,मेडिटेशन,उचितआहारऔरलगातारअध्ययनकरनेसेअपनीउर्जाकोसकारात्मकदिशामेंलेजाकरएकसुखद,शांतऔरआनंददायकवृद्धावस्थाकाअनुभवकियाजासकताहै.बुढापासिर्फएकआंकड़ाहैजिसेआपअपनीजीवनशैलीसेपरास्तकरसकतेहैं."

MPNews:मध्यप्रदेशमेंE-Wayबिलहुआअनिवार्य,15अप्रैलसेलागूहोंगेनियम,जानें-पूरीडिटेल्स