महिलाएं हो रही हैं सशक्त, जीवन में आ रहा है बदलाव

गढ़वा:जिलेमेंशुक्रवारकोमहिलादिवसधूमधामसेमनायागया।विभिन्नजगहोंपरकार्यक्रमआयोजितकिएगए।महिलासशक्तीकरणपरजोरदियागया।कईजगहोंपरमहिलाओंकोसम्मानितकियागया।जिलाविधिकसेवाप्राधिकारद्वारासदरप्रखंडकेहरैयागांवस्थितओरिएंटलकोचिगसेंटरमेंशुक्रवारकोअंतर्राष्ट्रीयमहिलादिवसकेमौकेपरविधिकजागरुकताशिविरकाआयोजनकियागया।इसमौकेपरपीएलवीमुरलीश्यामतिवारीवसूर्यदेवचौधरीउपस्थितथे।शिविरमेंमुरलीश्यामतिवारीनेकहाकिमहिलाओंकोअपनेअधिकारोंकोलेकरजागरुकहोनेकीजरुरतहै।विधिकसेवाप्राधिकारकेतहतआíथकरुपसेकमजोरलोगोंकोनिश्शुल्ककानूनीसहायतादियाजाताहै।सरकारीखर्चपरअधिवक्ताकीव्यवस्थाकीजातीहै।उन्होंनेकहाकिमहिलाओंकोघरेलूहिसासेपीड़तिवपोस्कोएक्टकेतहतमुआवजेकाप्रावधानहै।सरकारद्वारामहिलासशक्तिकरणकेलिएकईयोजनाएंसंचालितहैं।राज्यसरकारनेमनरेगायोजनामेंकार्यकेदेखरेखकेलिएमहिलामेठरखनेकानियमबनायाहै।इसमेंसखीमंडलवएसएचजीकीमहिलाएंमेठकाकार्यकरसकतीहैं।उन्होंनेकहाकिअब18वर्षकीउम्रकीविधवाओंकोभीपेंशनमिलरहाहै।साथहीविधवाओंकेलिएअंबेडकरआवासयोजनातहतउन्हेंमकानमुहैय्याकरानाहै।उन्होंनेशिक्षाकाअधिकारअधिनियम,मातृत्वअवकाश,मातृत्ववंदनायोजना,मुख्यमंत्रीसुकन्यायोजना,प्रधानमंत्रीश्रमयोगीमानधनपेंशनयोजना,डायनभूतप्रतिषेधअधिनियमआदिकेबारेमेंभीविस्तृतजानकारीदी।कार्यक्रममेंकोचिगसेंटरकेसंचालकपवनगिरिनेकहाकिहमारेदेशकीसंस्कृतिनारियोंकोपूजाकरनेवालीरहीहै।अपनीसंस्कृतिकेअनुरुपकार्यकरमहिलाओंकोसशक्तबनानेकाप्रयासकरनाचाहिए।कार्यक्रममेंरणधीरकुमारचंद्रवंशीनेभीअपनेविचारव्यक्तकिए।कार्यक्रमकासंचालनपीएलवीसूर्यदेवचौधरीनेकिया।मौकेपरमनीषासिंह,निकिताकुमारी,मंचलकुमारी,मेघाकुमारी,संध्यादेवी,मनोरमादेवी,कमोदाकुंवर,सुषमादेवी,रेणुदेवी,चंचलादेवीसमेतबड़ीसंख्यामेंलोगउपस्थितथे।