मद्रास उच्च न्यायालय ने बाढ़ प्रबंधन को लेकर नगर निगम को फटकार लगायी

चेन्नई,नौनवंबर(भाषा)मद्रासउच्चन्यायालयनेमंगलवारकोग्रेटरचेन्नईनगरनिगमकोशहरमेंलगातारहोरहीमूसलाधारबारिशकेकारणबनेबाढ़केहालातकोलेकरकड़ीफटकारलगातेहुएकहाकिसालकीपहलीछमाहीमेंनागरिक''पानीकेलिएरोतेहैं''औरबादकीछमाहीमें''पानीकेकारण''(बाढ़में)मरजातेहैं।मुख्यन्यायाधीशसंजीबबनर्जीऔरन्यायमूर्तिपीडीऔदिकेसवालुकीपीठनेआजएकजनहितयाचिकापरसुनवाईकेदौरानकहा,''आधेसालहमपानीकेलिएरोनेकोमजबूरहोतेहैं(पेयजलकीकमीकेकारण)औरबाकीआधेसालहमपानीमेंमरनेकेलिएमजबूरहोतेहैं।''पीठहालमेंहुईबारिशकेदौरानशहरमेंबाढ़कोरोकनेकेप्रयासोंमेंनगरनिगमकीविफलताओंकोरेखांकितकररहीथी।पीठनेकहा,''वर्ष2015कीबाढ़केबादपिछलेपांचवर्षोंसेअधिकारीक्याकररहेथे?''अदालतनेअधिकारियोंकोचेतावनीदीकिअगरएकसप्ताहकेभीतरस्थितिमेंसुधारनहींहुआतोवह(अवमानना)कार्यवाहीशुरूकरनेमेंसंकोचनहींकरेगी।जनहितयाचिकासड़कोंपरअतिक्रमणकेखिलाफऔरउसेहटानेकेअनुरोधकोलेकरथी।