मध्यप्रदेश में ग्वालियर के इस स्कूल में ड्रोन उड़ाने से लेकर बनाने तक का हुनर सीखेंगे छात्र

ग्वालियर,जेएनएन।मध्यप्रदेशमेंग्वालियरकेएमआईटीएसकालेजमेंड्रोनस्कूलबनकरतैयारहोचुकाहै।जिसकाउद्दघाटनकेंद्रीयउड्डयनमंत्रीज्योतिरादित्यसिंधियागुरुवारकोकरेंगे।इसस्कूलमेंड्रोनउड़ानेसेलेकरबनानेकाहुनरसीखकरछात्रअपनाउज्ज्वलभविष्यबनासकेंगे।

मालूमहोकिकेंद्रीयमंत्रीज्योतिरादित्यसिंधियानेपिछलेसाल11दिसंबरकोग्वालियरमेंआयोजितड्रोनमेलेमेंमध्यप्रदेशमें5ड्रोनस्कूलखोलनेकीबातकहीथी।येस्कूलइंदौर,भोपाल,जबलपुर,ग्वालियरऔरसतनामेंखुलेंगे।नागरिकउड्डयनमंत्रालयनेसिंधियाकीघोषणाकोअमलीजामापहनादियाहै।

जानकारीहोकिड्रोनस्कूलसंचालनकेलिएइंदिरागांधीराष्ट्रीयउड़ानअकादमीऔरएमआईटीएसकेबीचएमओयूसाइनहुआहै।इसड्रोनस्कूलमेंतीनमहीनेसेलेकरएकसालतककेकोर्ससंचालितहोंगे।जिसकीशुरूआतस्कूलकेशुभारंभकेसाथहोजाएगी।स्कूलमेंसभीआवश्यकसाधनसंसाधनवड्रोनकीउपलब्धताहोचुकीहै।ड्रोनजिसस्थानसेउड़ानासिखायाजाएगावहभीबनकरतैयारहोचुकाहै।

जानकारीहोकिड्रोनउड़ानेवालोंकीजरुरतहरक्षेत्रमेंहै।सुरक्षासेलेकरकृषितकमेंअबड्रोनकाउपयोगकियाजाएगा।ड्रोनसेनिगरानीरखनेसेलेकरफसलोंपरदवाछिड़कनेतककाकामलियाजारहाहै।सामानतकलोगड्रोनसेएकस्थानसेदूसरेस्थानतकपहुंचानेमेंउपयोगकररहेहैं।इसलिएड्रोनउड़ानेकेक्षेत्रमेंतेजीसेमांगबढ़नेवालीहै।जिसकोलेकरस्कूलखोलेगएऔरलोगइसक्षेत्रमेंअपनाभविष्यबनानेकेलिएआगेआभीरहेहैं।प्रवेशलेनेकेलिएउम्रकानिर्धारणनहींरखागयाहै।

मालूमहोकिड्रोनकीप्रैक्टिकलक्लासकेलिएकॉलेजकेएकबड़ेमैदानकोआरक्षितकियागयाहै।वहींइसकोर्समें3महीनेसेलेकरएकसालतककेड्रोनपायलटकोर्सहोंगे।जिसकेलिएशुरूआतमें30सीटोंपरहीप्रवेशरखागयाहै।इसमेंन्यूनतम12पासयुवाओंकोड्रोनस्कूलमेंदाखिलामिलपाएगा।ड्रोनस्कूलकेलिएट्रेनिंगऔरड्रोनउड़ानेकीगाइडलाइनतैयारहोचुकीहै।फरवरीमहीनेमेंइंदिरागांधीराष्ट्रीयड्रोनअकादमीभर्तीविज्ञापनजारीकरचुकीथी।जिसमेंप्रवेशऔरनियमावलीकापूराउल्लेखरखागया।इंदिरागांधीराष्ट्रीयउड़ानअकादमीकीटीमबुधवारकोग्वालियरपहुंची।एमआईटीएसकेडायरेक्टरकाकहनाहैकिड्रोनस्कूलमेंछात्रोंकेलिएसभीसुविधाएंमौजूदहोंगी।