मौसम की मार, बच्चे पर रहे बीमार

जिलेमेंइनदिनोंठंडकेसाथ-साथतेजहवाभीचलरहीहै।तापमानमेंबदलावकेकारणशहरसेलेकरगावोंतकमौसमीबीमारियोंकाप्रकोपबढ़गयाहै।बैक्टीरियाजनितबीमारियाहोरहीहैं।बीमारहोनेवालोंमेंबच्चोंकीसंख्याअधिकहै।खासकरपाचवर्षसेकमउम्रकेबच्चेसर्दी,खासी,बुखारवउल्टीकेसाथहीडायरियाऔरमच्छरजनितरोगोंकीचपेटमेंआरहेहैं।इनसबसेअधिकखतरानिमानियाजैसीबीमारियोंसेदेखनेकोमिलताहै।इससेबीमारहोरहेबच्चोंकीसंख्यामेंलगातारवृद्धिहोरहीहै।जिसकेबादउनकेमाता-पिताअस्पतालोंकाचक्करलगारहेहैं।जरूरतहैतोठंडकोदेखतेहुएबच्चोंकेसहीदेखभालकी।

एकसे30जनवरीतककुल67बच्चेसदरअस्पतालकेसिकन्यूबोर्नकेयरयूनिटमेंआएहैं।इनबच्चोंमेंअधिकांशनिमोनिया,डायरियाववायरलबुखारसेप्रभावितथे।शिशुरोगविशेषज्ञडॉ.महताबनेबतायाकिमाता-पिताठंडकेमौसममेंसावधानीबरतेतोउनकेबच्चेस्वस्थरहसकतेहैं।इसमौसममेंबच्चोंकोतेलमालिसकरनेकेलिएमांखुलेमेंलेकरजातीहै।जोकाफीखतरनाकहै।ठंडमेंबच्चोंकोहवासेबचानाजरूरीहै।जबधूपनिकलेतोहीबच्चोंकोबाहरलेकरनिकलनाचाहिए।बतायाकिइनदिनोंहवाचलरहीहै।जिससेबच्चोंकोठंडलगनेकीआशंकाअधिकरहतीहै।इसलिएबच्चोंकोठंडमेंहवासेबचाकरस्वस्थरखाजासकताहै।कहाकिनिमोनियामेंएंटीबायोटिकदवादीजातीहै,लेकिनडायरियाववायरलबुखारमेंएंटीबायोटिकदवाकाप्रयोगनहींकरनाचाहिए।डायरियाकाप्रभावहोनेपरओआरएसदें।बच्चोंकोकिसीप्रकारकाकोईपरेशानीहोतोनिजीदुकानोंसेदवानहींलेनाचाहिए।चिकित्सककीसलाहलेकरहीदवादेनीचाहिए।वहीं,ज्यादातरमाताओंकोलगताहैकिबच्चोंकोसबसेज्यादाठंडछातीमेंलगतीहैइसलिएवेबच्चोंकोढेरसारेकपड़ेपहनाकररखतीहैंजबकिठंडकेमौसममेंपैरऔरसिरकोभीढंककररखनाभीबेहदजरूरीहोताहै।-एसएनसीयूमेंबच्चोंकेइलाजकीसमुचितव्यवस्थाकीगईहै।14बेडमेंएकबेडगंभीररूपसेबीमारबच्चोंकेलिएरखाजाताहै।ठंडकोदेखतेहुएबच्चोंकेस्वास्थ्यकेप्रतिअस्पतालप्रबंधनसतर्कहै।

-मिथिलेशझा,सीएस