मास कम्युनिकेशन की परीक्षा में फर्स्ट डिवीजन आए दोनों, जेल की लाइब्रेरी में पढ़ते थे

पटनाकेबेउरजेलमेंसजायाफ्तादोकैदियोंनेनालंदाओपनयूनिवर्सिटीसेमासकम्युनिकेशनकोर्समेंप्रथमश्रेणीसेपरीक्षापासकियाहै।इसेलेकरजेलकेअंदरकईकैदियोंकेबीचउत्साहकामाहौलहै।जेलप्रशासननेभीउनकीइससफलताकेलिएउन्हेंधन्यवाददिया।

जेलसूत्रोंसेमिलीजानकारीकेअनुसारबेउरजेलमेंसजाकाटरहेकैदीविशालकुमारएवंशिवजीयादवनेनालंदाओपनयूनिवर्सिटीसेमासकम्युनिकेशनमेंप्रथमश्रेणीसेपरीक्षापासकीहै।बतायाजारहाहैकिविशालकुमार3मई2013सेबेवरजेलमेंबंदहै।विशालकुमारपरअपहरणऔरहत्याकेमामलेदर्जहैं।इसेलेकरउन्हें20वर्षकीसजान्यायालयसेमिलीहै।सजामिलनेकेबादइन्होंनेजेलकेअंदरहीआपअपनीपढ़ाईशुरूकीऔरलगातारकड़ीमेहनतकेबादइन्होंनेमासकम्युनिकेशनमेंप्रथमश्रेणीसेपरीक्षापासकरलीहै।

जेलसूत्रबतातेहैंकिक्रॉसफ़ॉन्डेंटकोर्सकेमाध्यमसेइन्होंनेजेलकेलाइब्रेरीकोहीअध्ययनकक्षबनाडाला।ठीकउसीप्रकारशिवजीयादवनेभीवर्ष2015मेंजेलमेंभागलपुरसेस्थानांतरितहोकरआएथे।वर्ष2008मेंइनपरमामलादर्जहोनेकेबादइन्हें20वर्षकीसजामुकर्ररकीगईथी।इसबीचशिवजीयादवएवंविशालकुमारनेकंबाइंडस्टडीकरकेअपनापूराध्यानअध्ययनपरलगाया।इसमेंइन्हेंबड़ीसफलताहासिलहुईहै।जेलसुपरिटेंडेंटजितेंद्रकुमारनेबतायाकिइनदोनोंकोपढ़नेकेलिएजेलकीलाइब्रेरीखोलदिएगएथे।उन्होंनेबतायाकिउनकीसजाअबलगभगपूरीहोनेजारहीहै।जेलसेनिकलनेकेबादवहअपनाकैरियरइसमेंबनाएंगे।