कुवि में आंवले का पौधा लगाकर पौधारोपण अभियान शुरू

जागरणसंवाददाता,कुरुक्षेत्र:राष्ट्रीयकैडेटकोरकेअंबालाग्रुपकेकमांडरब्रिगेडियरएएसबरारनेवीरवारकोकुरुक्षेत्रविश्वविद्यालयकेइंस्टीट्यूटआफइंटिग्रेटिडएंडआनर्सस्टडीजमेंआंवलेकापौधालगाकरराष्ट्रीयकैडेटकोरकेपौधारोपणअभियानकाशुभारंभकिया।

उन्होंनेकहाकिराष्ट्रीयकैडेटकोरकीकीकुविइकाईकीओरसेहरविभागमेंऔरपरिसरमेंखालीपड़ीजगहोंपरपौधारोपणकियाजाएगा।केवलपौधारोपणहीनहींइसकेबादपौधेकेपालनपोषणपरभीध्यानदियाजाएगा।इसकेबादउन्होंनेकुलपतिकार्यालयपहुंचेकुलपतिप्रो.सोमनाथसचदेवासेमुलाकातकी।कुलपतिसेमुलाकातमेंउन्होंनेराष्ट्रीयकैडेटकोरकोऐच्छिकविषयकेरूपमेंप्रारंभकरनेकेविषयमेंचर्चाकी।इसमौकेपर10हरियाणाकेकमांडिगअफसरकर्नलरूपेंद्रसिंह,कर्नलअमृतपालसिंहसंधू,आइआइएचएसकेप्रिसिपलडा.संजीवगुप्ताऔरडा.वीरेंद्रपालमौजूदरहे।

प्राणवायुदेनवालेपेड़ोंकोबचाएं:प्रीतमसिंह

जागरणसंवाददाता,कुरुक्षेत्र:प्रेरणाकुरुक्षेत्रववसुधैवकुटुंबकमसंस्कृतिसेवाआयामकेसंयुक्ततत्वावधानमेंसिरसमागांवकेमुक्तिधाममेंपौधारोपणअभियानचलायागया।कार्यक्रममेंमुख्यातिथिआरएसएसकेविभागकार्यवाहएवंडा.भीमरावआंबेडकरस्टडीजसेंटर,कुविकेसहायकनिदेशकडा.प्रीतमसिंहऔरविशिष्टअतिथिआरएसएसकुरुक्षेत्रजिलाकार्यवाहडा.ऋषिपालमथानारहे।

कार्यक्रममेंमुख्यातिथिवविशिष्टअतिथिनेनीम,बरगदवपीपलरूपीत्रिवेणीसहितगुल्लर,फाइकस,पिलखनकेपौधेलगाए।मुख्यातिथिडा.प्रीतमसिंहनेकहाकिप्राचीनकालसेहीप्रकृतिपूजकदेशभारतमेंपेड़पौधोंकोदेवतुल्यमानागयाहै।उन्हेंदेवताओंकीतरहहीपूजाजाताहै।उन्होंनेकहाकिवृक्ष:रक्षतिरक्षिताअर्थातयदिहमवृक्षोंकीरक्षाकरेंगेतोवृक्षभीहमारीरक्षाकरेंगे।हमेंजीवनपर्यंतजीवनदायिनीप्राणवायुप्रदानकरेंगेजोकिपृथ्वीपरजीवनकेअस्तित्वकेलिएपरमावश्यकहै।हमसभीकायहकर्तव्यबनताहैकिहमअपनेजीवनकालमेंकमसेकम100पौधेजरूरलगाएं,ताकिहमअपनेपर्यावरणकोसंरक्षितवसंवर्धितकरसकें।इसमौकेपरडा.जयभगवानसिगला,अतुलशास्त्री,डा.तरसेमकौशिक,डा.केवलकृष्ण,बंसीलाल,टीकासिंह,राजनकौशिक,पूर्वपंचजगदीशचंद्र,प्रदीप,राजबीर,राजकुमार,शैलेंद्रकुमारवविक्कीमौजूदरहे।