कुपोषण की समस्या का होगा समाधान, सामान्य चावल की जगह अब मिलेगा पोषणयुक्त चावल

देशमेंकुपोषणकीसमस्यासेनिजातपानेकेलिएमोदीसरकारनेएकबड़ाफ़ैसलाकियाहै.केंद्रीयकैबिनेटकीबैठकमेंफ़ैसलालियागयाकिसार्वजनिकवितरणप्रणालीकेतहतमिलनेवालेचावलकोअबपोषणयुक्त(FortifiedRice)बनाकरलोगोंकोदियाजाएगा.मार्च2024तकचरणबद्धतरीकेसेपूरेदेशमेंयेयोजनालागूकरदीजाएगी.

भारतकाहरचौथाबच्चाकुपोषणकाशिकार

राष्ट्रीयपरिवारस्वास्थ्यसर्वेकेमुताबिक,देशमेंहरदूसरीमहिलाखूनकीकमीकीशिकारहै.देशकाहरतीसराबच्चाअविकसितयाछोटेकदकाहै.भारतकाहरचौथाबच्चाकुपोषणकाशिकारहै.देशकाहरपांचवांबच्चाकमज़ोरहै,ग्लोबलहंगरइंडेक्समेंदक्षिणएशियाईदेशोंमेंभारतकास्थान94वांहैजोकेवलअफगानिस्तान(99)सेऊपरहै.

एकअनुमानकेमुताबिक,देशमें5वर्षसेकमआयुकेबच्चोंकीहोनेवाली68%मृत्युकाकारणकुपोषणहै.कुपोषणकेचलतेहोनेवालीबीमारी,मृत्युऔरउत्पादकतामेंकमीसेदेशकोहरसाल7400करोड़रुपएकानुकसानहोताहै.अविकसितबच्चेवयस्कहोनेपरस्वस्थलोगोंकीतुलनामें20फ़ीसदीकमकमातेहैं.आयरनकीकमीसेदेशकोहरसाल1%जीडीपीकानुकसानउठानापड़ताहै.ऐसेमेंअबमोदीसरकारनेकुपोषणकीसमस्याकासमाधानकरनेकेलिएएकनईयोजनाबनाईहै.मार्च2024तकपूरेदेशमेंअलग-अलगपोषणयोजनाओंमेंमिलनेवालेचावलकोपोषणयुक्तबनाकरदियाजाएगा.

कैसेपौष्टिकहोगाचावल?

इसकामतलबयेहुआकि2024तकदेशमेंचलरहीकिसीभीसरकारीयोजनाकेतहतदियाजानेवालाचावलFortifyहीहोगा.चावलकोपोषकतत्वोंसेलैसकरनेकामतलबहैधानसेचावलनिकालतेसमयउसमेंमशीनकेज़रिएआयरन,फोलिकएसिड,विटामिनबी12औरकुछअन्यखनिजपदार्थोंकामिलायाजाना,ताकिचावलऔरपौष्टिकहोजाए.इनमेंप्रमुखरूपसेखाद्यसुरक्षाक़ानूनकेतहतक़रीब80करोड़लोगोंकोदियाजानेवालाचावलऔरमिडडेमील/आईसीडीएसस्कीमऔरराष्ट्रीयपोषणअभियानकेतहतस्कूलोंमेंबच्चोंकोपरोसाजानेवालाचावलशामिलहै.

इसयोजनापरमार्च2024तक4270करोड़रुपएख़र्चकिएजाएंगे.जिसकापूराभारकेंद्रसरकारवहनकरेगी.सरकारनेपहलेहीदेशके15सबसेप्रभावितराज्योंकेएक-एकज़िलेमेंपायलटप्रोजेक्टकेतौरपरयेयोजनालागूकरनेकाफ़ैसलाकियाथा.हालांकिफिलहालयोजना6राज्योंकेएक-एकज़िलेमेंप्रयोगकेतौरपरचलरहीहै.सूत्रोंकेमुताबिक़ऐसेराइसमिलोंकीसंख्याबढ़ाईजाएगीजिनमेंचावलकेफोर्टीफिकेशनकीमशीनलगीहो.फिलहालऐसीमिलोंकीसंख्याकरीब2650है.

बूस्टरडोजमेंकौन-कौनसीवैक्सीनलेसकतेहैंऔरकिसकीक्याकीमतहोगी,जानिएपूरीडिटेल

FCRAनियमोंमेंबदलावकोSCनेसहीठहराया,कहा-'सरकारचाहेतोलगासकतीहैNGOकेविदेशीअनुदानलेनेपररोक'