कश्मीर विधेयक चर्चा तीन अंतिम लोस

भाजपाकेब्रजेंद्रसिंहनेकहाकिकुछसदस्यकहरहेहैंकिजम्मूकश्मीरपुनर्गठनविधेयकलागूहुएडेढ़सालहोगयातोइतनेसमयबादअधिकारियोंकेकैडरसंबंधीइसविधेयकलानेकीक्याजरूरतथी।उन्होंनेकहाकिअभीडेढ़सालहुआहैजिसमेंएकवर्षकोरोनावायरसमहामारीमेंनिकलगया।उन्होंनेकहाकिप्रतीक्षाकीजिएआगेविकासकेफैसलेहोतेरहेंगे।आरएसपीकेएनकेप्रेमचंद्रननेविधेयककाविरोधकरतेहुएकहाकिगृहमंत्रीनेकहाथाकिकानूनव्यवस्थाकीस्थितिबहालहोनेऔरसामान्यस्थितिहोनेकेबादजम्मूकश्मीरकापूर्णराज्यकादर्जाबहालकियाजाएगा,लेकिनऐसाकबहोगा।उन्होंनेकहाकिइसकामतलबहैकिसरकारवहांसामान्यस्थितिनहींकरसकीहै,इसलिएपूर्णराज्यकादर्जाअभीतकनहींबहालकियागयाहै।प्रेमचंद्रननेकहाकिजम्मूकश्मीरमेंजल्दसेजल्दसामान्यस्थितिबहालकीजानीचाहिएऔरवहांजमीनीहालातकाआकलनकरनेकेलिएएकसर्वदलीयप्रतिनिधिमंडलकोभेजाजानाचाहिए।भाजपाकेजेटीनामज्ञालनेकहाकिइसविधेयककेप्रभावमेंआनेकेबादजम्मूकश्मीरऔरलद्दाखमेंअधिकारियोंकीकार्यक्षमताबढ़ेगी,लोगोंकोअच्छेमाहौलमेंकामकरनेकामौकामिलेगा।उन्होंनेकहाकिइससेदोनोंकेंद्रशासितप्रदेशोंमेंप्रशासनिकएकरूपताआएगी।नामज्ञालनेकांग्रेसपरनिशानासाधतेहुएउसे‘दिशाहीन’पार्टीकरारदियाऔरकहाकिजम्मूकश्मीरकेअलगतरहकाराज्यहोनेकीमानसिकताबदलनीहै।दोनोंकेंद्रशासितप्रदेशभारतकाअटूटअंगहैंऔरसभीकेसमानहैं।उन्होंनेमांगकीकिलद्दाखकेलिएअलगराज्यलोकसेवाआयोगगठितकियाजानाचाहिए।कांग्रेसकेमनीषतिवारीनेकहाकिइसविधेयककीराजनीतिकमंशाजम्मूकश्मीरकाविभाजनकियेजानेकेबादउसेस्थायित्वप्रदानकरनेकीहै।उन्होंनेकहाकिजबमूलविधेयकलायागयाथातोकहागयाथाकिजम्मूकश्मीरमेंअमनआएगा,विकासआएगा,लेकिनपिछले17महीनोंमेंइसकेविपरीतहुआहै।तिवारीनेदावाकियाकिकश्मीरमेंइसअवधिमेंकोईनयाउद्योगनहींआया,वहींजम्मूमेंकईउद्यमबंदहोगये।उन्होंनेभीकुछअन्यविपक्षीसदस्योंकीतरहकहाकिजम्मूकश्मीरकापूर्णराज्यकादर्जाबहालकरनेकावादाकियागयाथा।17महीनेहोगये,लेकिनएकतरफतोयहदर्जाबहालनहींकियागया,वहींप्रशासनिककैडरकोदूसरेकैडरमेंमिलायाजारहाहै।आखिरसरकारकीमंशाऔरनीयतक्याहै।तिवारीनेयहभीकहाकिजम्मूकश्मीरपुनर्गठनकानूनकोशीर्षअदालतमेंसंवैधानिकचुनौतीदीगयीहैऔरनैतिकताकातकाजाकहताहैकिइसकेबादकेक्रममेंकोईविधेयकनहींलानाचाहिए।उन्होंनेकहाकिविधेयककीसंवैधानिकतापरफैसलाजबतकनहींहोजाताा,तबतकमौजूदाविधेयककोवापसलियाजानाचाहिए।चर्चामेंभागलेतेहुएभाजपाकेजुगलकिशोरशर्मानेकहाकिजम्मू-कश्मीरबदलरहाहैऔरवहांकेलोगनेशनलकॉन्फ्रेंस,कांग्रेसऔरपीडीपीकेबहकावेमेंआनेवालेनहींहैं।उन्होंनेकहाकिवहांजिलाविकासपरिषदकेसफलचुनावदर्शातेहैंकिलोगविकासकेसाथहैं।एआईएमआईएमकेअसदुद्दीनओवैसीनेआरोपलगायाकिअनुच्छेद370कोअसंवैधानिकतरीकेसेखत्मकियागया।उन्होंनेकहाकिगृहमंत्रीनेसदनमेंकहाथाकिजम्मू-कश्मीरकेपूर्णराज्यकेदर्जेकोजल्दबहालकियाजाएगा,लेकिनइसविधेयकसेसाफहैकिवहइसेपूर्णराज्यकादर्जानहींदेनेजारहेहैं।इसकामतलबयहहैकिउनकीबातसिर्फएकजुमलासाबितहुईहै।ओवैसीनेसवालकियाकिक्यासरकारपूर्णराज्यकादर्जाबहालकरेगी?उन्होंनेकहाकिसरकारकोयूरोपीयसांसदोंकेप्रतिनिधिमंडलकीबजायभारतकेसर्वदलीयप्रतिनिधिमंडलकोजम्मू-कश्मीरभेजनाचाहिए।ओवैसीनेदावाकियाकिसरकारजम्मू-कश्मीरकेमुद्देकाअंतरराष्ट्रीयकरणकररहीहै।कांग्रेसकेजसबीरसिंहगिलनेकहाकिइसविधेयकसेजम्मू-कश्मीरमेंप्रशासनिकदिक्कतेंपैदाहोंगीऔरइसकदमकाकोईमतलबनहींहै।उन्होंनेसरकारसेआग्रहकियाकिपंजाबीकोजम्मू-कश्मीरकीआधिकारिकभाषाघोषितकियाजाए।