कृषि ऋण माफी योजना से टोकन लेकर खुश हो रहे किसान

संवादसूत्र,सारठ:झारखंडसरकारकीजनोपयोगीकृषिऋणमाफीयोजनाकोलेकरलोगोंमेंकाफीहर्षदेखाजारहाहै।सरकारकेप्रतिलोगोंकीउम्मीदभीबढ़तीजारहीहै।इसयोजनासेक्षेत्रकेकिसानोंकोलाभान्वितकरनेकेउद्देश्यकोलेकरस्टेटबैंकऑफइंडिया,झारखंडराज्यग्रामीणबैंक,सेंट्रलबैंकऑफइंडियासमेतप्रखंडकीतमामबैंकोंद्वाराकिसानोंकीकागजीप्रक्रियापूरीकरनेकेबादअबसभीकिसानअपनीसूचीकेइंतजारमेंहैं।हालांकिग्रामीणबैंकशाखाद्वाराजारीकीगईकिसानोंकीसूचीकेबादक्षेत्रकेकिसानोंमेंखुशीऔरदुगुनीहोतीजारहीहै।ग्रामीणबैंकद्वाराजारीकीगईसूचीकेकृषिऋणधारकरमाकांतराणाद्वारासबसेपहलेप्रज्ञाकेंद्रसेऑनलाइनसत्यापनकरएकरुपयाकाटोकनकाटकरपावतीप्राप्तकीगई।जिससेउनकेचेहरेपरकाफीखुशीदेखीगई।वहींइसयोजनाकोलेकरप्रज्ञाकेंद्रसंचालकविनयरायभीउत्साहितदिखे।उन्होंनेबतायाकिपोर्टलकोअपलोडकरनेमेंथोड़ीसमस्याजरूरआरहीहैपरंतुधीरे-धीरेसुधारहोजाएगा।बतादेंकिऑनलाइनसत्यापनकोलेकरप्रज्ञाकेंद्रोंमेंअभीभीड़नहीबढ़ीहैक्योंकिइसक्षेत्रकेज्यादातरकिसानोंनेसेंट्रलबैंकशाखासेकृषिऋणप्राप्तकियाहै।जबसेंट्रलबैंककीसूचीजारीहोगीतोकिसानोंकीभीड़उमड़ेगी।हालांकिप्रज्ञाकेंद्रकेसंचालकविनयराय,उत्तमकुमारसिन्हानेबतायाकिपोर्टलकेसंबंधमेंजोभीसमस्याआरहीहैइसेलेकरसंबंधिततकनीकीविभागकोसूचितकियागयाहै।जल्दहींइसेदुरुस्तकियाजाएगाताकिकिसानोंकोपरेशानीनहींउठानीपड़े।