कॉलेज में सख्ती होने से एक दर्जन ने छोड़ी एलएलबी परीक्षा, छात्रों के नकल के मंसूबों पर फिरा पानी

मऊ,जेएनएन।शहरकेडीसीएसकेपीजीकालेजमेंएलएलबीकीपरीक्षामेंसख्तीकेआगेमंगलवारसेपरीक्षार्थियोंकेटूटनेकासिलसिलाशुरूहोगयाहै।सीसीटीवीकेफुटेजमेंकुछपरीक्षार्थियोंकेबातचीतकामामलाआनेपरप्राचार्यकीकड़ीचेतावनीकेबादजहां14एलएलबीछात्रोंनेपरीक्षाहीछोड़दियाहै,वहींआधादर्जनसेअधिकछात्रोंकोअनुचितसामग्रीपाएजानेपरमुंख्यद्वारपरहीपकड़करकड़ीहिदायतदीगई।प्राचार्यडा.एकेमिश्रनेसभीकक्षनिरीक्षकोंकोपरीक्षाहोनेकीअवधितकपरीक्षार्थियोंकेबीचकिसीभीतरहकीबातचीतपरपूर्णप्रतिबंधलगानेकानिर्देशदियाहै।

यूपीबोर्डकेवित्तविहीनइंटरकालेजोंएवंनिजीमहाविद्यालयोंसेनकलकेसहारेपरीक्षापासकरतेआएछात्रअपनीहरकतोंसेबाजआनेकोतैयारनहींहैं।कानूनकीडिग्रीलेनेकेलिएएलएलबीकररहेछात्रभीआपसमेंबातचीतवताकझांकसेबाजनहींआरहेहैं।शहरकेडीसीएसकेपीजीकालेजकोजगरूपविधिमहाविद्यालयइंदारा,बलदेवश्रीधरविधिमहाविद्यालयमरदहतथासंतलखनदासविधिमहाविद्यालयमरदहकापरीक्षाकेंद्रबनायागयाहै।

प्राचार्यडा.एकेमिश्रानेबतायाकिमंगलवारकोएलएलबीकीपरीक्षाकेलिएतीनोंनिजीकालेजोंकेकुल410छात्रपंजीकृतथे,जिनमेंसे396छात्रोंनेहीपरीक्षादियाऔर14परीक्षार्थीअनुपस्थितथे।प्राचार्यडा.मिश्रानेकहाकिपरीक्षाकीपवित्रतासेकोईसमझौतानहींकियाजासकता।परीक्षाकेदौरानआपसमेंकिसीभीप्रकारकीबातचीतकरनाअनुचितहै।ऐसाकरनेपरचेतावनीसेबड़ीकार्रवाईभीकीजासकतीहै।