कमिश्नर के दरबार पहुंचा आरएवाई पर नगर निगम अधिकारियों की सुस्ती का मामला

जागरणसंवाददाता,यमुनानगर:राजीवआवासयोजना(आरएवाई)परनगरनिगमअधिकारियोंकीसुस्तीकामामलाअबकमिश्नरकेपासपहुंचगयाहै।पार्षदोंनेकसूरवारअधिकारियोंकेखिलाफकार्रवाईवयोजनाकेतहतटेंडरलगाएजानेकीमांगकीहै।नगरनिगमअधिकारीआरएवाईके10करोड़रुपयेपरकुंडलीमारेबैठेहैं।पैसाहोनेकेबावजूदछहसालमेंएस्टीमेटतकनहींलगपाए।यहपैसासातकॉलोनियोंमेंसीवरेज,स्ट्रीटलाइट,पेयजल,कम्युनिटीसेंटरकेलिएहै।इनसेट

किसकॉलोनीकेलिएकितनापैसा

बूड़िया:2करोड़20लाख45हजार

मधुबनकॉलोनी:आठलाख75हजार

निरंजनकॉलोनी:10लाख43हजार

मुखर्जीपार्क:2करोड़33लाख66हजार

हमीदा:4करोड़61लाख42हजार

जम्मूकॉलोनी:59लाख81हजार

कुल:9करोड़94लाख34हजारआगेनहींबढ़पायाप्रोजेक्ट

पार्षदोंकाकहनाहैकि12फरवरी2013कोकुमारीसैलजानेजिलायमुनानगरकेलिएआरएवाईस्कीमकोपायलेटप्रोजेक्टकेतौरपरशुरूकियाथा,लेकिनअधिकारियोंकीमनमानीसेयहयोजनाआगेनहींबढ़पाई।यहयोजनाअफसरशाहीमेंउलझकररहगई।हरकॉलोनीमेंसीवरेज,पेयजल,स्ट्रीटलाइटवकम्युनिटीसेंटरकीआवश्यकताहै।कॉलोनीवासियोंकीकच्चीछतहै।आरएवाईकापैसाहोनेकेबावजूदजरूरतमंदोंकोपक्कीछतनहींमिलरहीहै।अधिकारियोंकीमंशामेंखोट

वार्डनंबर-13सेपार्षदनिर्मलचौहानकाकहनाहैकिआरएवाईकेतहतहोनेवालेकार्योंकेएस्टीमेटबनाकरजल्दटेंडरलगाएजानेचाहिए।इससंदर्भमेंकईबारनगरनिगमअधिकारियोंसेबातकी,लेकिननहींसुनी।अबनगरनिगमकमिश्नरकोमामलेकीशिकायतदीहै।यदिफिरभीइसयोजनाकेतहतहोनेवालेकार्योंकेटेंडरनहींलगेतोशहरीस्थानीयनिकायमंत्रीअनिलविजकोशिकायतदीजाएगी।उनकेमुताबिकहमीदामेंचारएकड़जमीनखालीपड़ीहै।यहांकम्युनिटीहालबनायाजासकताहै।अन्यऔरभीकामवार्डमेंहोनेहैं।पार्षददेवेंद्रकुमारकाकहनाहैकिअफसरोंकीहीलाहवालीकेकारणआजतकआरएवाईकापैसापड़ाहै।बार-बारअधिकारियोंकोकहनेकेबावजूदकार्रवाईनहींहोरही।आरएवाईकापैसाहै,इसलिएसरकारकेदबावमेंअधिकारीकामनहींकरवारहेहैं।वार्डोंमेंकामअधूरेपड़ेहैंऔरसरकारसमानविकासकेदावेकररहीहै।हाउसकीबैठकमेंइसमामलेकोउठायाजाएगा।अधिकारियोंकोचाहिएकियोजनाकेतहतजल्दकार्योंकेएस्टिमेटबनाकरटेंडरलगाएजाएं।