कई सपने सच हुए, कई लक्ष्य भेदने हैं अभी

प्रतापगढ़:कालांतरमेंसरकारोंनेबहुतकुछकियाहै।बीतेपांचसालोंमेंभीकईसपनेसचहुए।हालांकिअभीकईसपनोंकासाकारहोनाबाकीहै।कईलक्ष्यअभीभेदनेबाकीहैं।उम्मीदहैकिआनेवालेसमयमेंबाकीकेसपनेभीपूरेहोहीजाएंगे।जागरणटीमनेसदरऔरकुंडाक्षेत्रकादौराकिया,लोगोंसेमिलेऔरउनसेउनकाअनुभवजानागया।पेशहैजागरणकीरिपोर्ट

-बीमारीनेडराया,आयुष्मानसेबचीजिदगी:गरीबपरिवारोंकेलिएबीमारीएकबड़ीआपदाहोतीहै।महंगाइलाजउनकेवशकीबातनहींहोती।ऐसेमेंवहजिदगीगंवादेतेहैं।ऐसेलोगोंकेलिएप्रधानमंत्रीजनआरोग्ययोजनाऔरमुख्यमंत्रीजनआरोग्ययोजनावरदानसाबितहोरहीहै।प्रतापगढ़मेंइसयोजनाकेअंतर्गत10लाखलोगोंकाचयनकियागयाहै।अबतकइसयोजनाकेअंतर्गत18,626गोल्डनकार्डधारकमरीजोंकोइलाजकीसुविधादीजाचुकीहै।किसीकोकैंसरथा,किसीकोटीवी।किसीकेकूल्हेकाऑपरेशनथातोकिसीकोब्रेनहेमरेजहोगयाथा।ऐसेतमाममरीजोंकाउपचारइसयोजनाकेअंतर्गतगोल्डनकार्डकेआधारपरनिश्शुल्कहुआ।इससेउनकेपरिवारमेंखुशियांलौटआईं।इसयोजनाकेनोडलडा.सुधाकरसिंहकाकहनाहैकिप्रतापगढ़जैसेछोटेजिलेमेंयहयोजनागरीबोंकीजिदगीबचानेमेंबहुतकारगरसाबितहुईहै।अभीभीसैकड़ोंमरीजइलाजकीप्रक्रियामेंहैं।

-वरदानबनागोल्डनकार्ड:

दोसालपहलेमेरेहृदयकावाल्वखराबहोगया।जिदगीखतरेमेंपड़गईथी।अच्छातोयहथाकिमेरेपासआयुष्मानगोल्डनकार्डथा,जिसकेकारणपीजीआइमेंमेरेवाल्वकोबदलकरमेरीजिदगीडाक्टरोंनेबचाली।आयुष्मानयोजनासेहीआजमैंजिदाहूं।

-निश्शुल्कराशनमिलनेसेपैसेकीहोरहीबचत:शासनकीमहत्वाकांक्षीप्रधानमंत्रीगरीबकल्याणअन्नयोजनावराष्ट्रीयखाद्यसुरक्षाअधिनियमकेतहतमाहमेंदोबारलाखोंकार्डधारकोंकोनिश्शुल्कराशनमिलरहाहै।जिलेकेपांचलाखसेअधिककार्डधारकोंकाइसकाफायदामिलरहाहै।जिलेमेंपांचलाख74हजारकार्डधारकहैं।इसमें74हजारअंत्योदयकार्डधारकहैं।बाकीकेपात्रगृहस्थीकेकार्डधारकहै।इसमेंप्रतियूनिटपरपांचकिलोराशनमिलरहाहै।इसकेअलावाएककिलोखाद्यतेल,एककिलोचनावएककिलोनमकभीअलगसेनिश्शुल्कदियाजारहाहै।इससेकार्डधारकोंकीहरमाहपैसेकीबचतहोरहीहै।शहरकेटक्करगंजकेराजेशकुमारबतातेहैंकिपहलेपैसादेनेकेबादराशनमिलताथा।वहभीमाहमेंएकबार।काफीदिनोंसेहमलोगोंकोमाहमेंदोबारराशननिश्शुल्कमिलरहाहै।राशनभीजरूरतभरसेकुछअधिकमिलजारहाहै।जोपैसाराशनखरीदनेमेंखर्चहोरहाथा।अबउसकीबचतहोरहीहै।अबउसपैसेकोबच्चेकीपढ़ाईमेंखर्चकररहाहूं।इससेकाफीराहतमिलीहै।