कदम-कदम पर बाधा, परीक्षा से पहले और भी हैं संकट

आगरा,जागरणसंवाददाता।कोरोनासंकटऔरविपरीतपरिस्थितियोंसेअन्यबोर्डभलेहीधीरे-धीरेउबररहेहों,लेकिनउप्रप्रदेशमाध्यमिकशिक्षापरिषद(यूपीबोर्ड)लाकडाउनकेबादसेअबतकनहींउबरपायाहै।बोर्डपरीक्षाफार्मदिसंबरतकभरेगए,वहींपरीक्षातीनबारटालीजाचुकीहै।अबभीयहकबऔरकैसेहोगी?फिलहालकोईनहींजानता।

यूपीबोर्डकीहाईस्कूलऔरइंटरमीडिएटपरीक्षाआयोजनमेंइतनीमुसीबतशायदहीकभीझेलनीपड़ीहो।इसअसमंजसऔरऊहापोहकीस्थितिसेजिलेकेएकलाख20हजारसेज्यादापंजीकृतविद्यार्थीपरेशानहैं।तीनबारटलीपरीक्षा,दोबारबदलाकार्यक्रम

असमंजसकासबसेबड़ाकारणपरीक्षाघोषितहोनेकेबादतीनबारटलनाहै।फरवरीमेंप्रस्तावितपरीक्षाइसबारदेरीकाशिकारथीऔर24अप्रैलसेकरानेकीघोषणाकीगई।परीक्षाकार्यक्रमजारीहुआ,लेकिनबीचमेंपंचायतचुनावआगयाऔरबोर्डपरीक्षाआठमईतकस्थगितहोगई।संशोधितकार्यक्रमजारीहुआ,अबकोरोनासंक्रमणनेपरीक्षातीसरीबारटालदी,अबइसे20मईतकटालागयाहै।परीक्षाकबहोगी?फैसलाप्रस्तावितबैठकमेंहोगा।

औरभीहैंमुश्किल

मुश्किलेंयहींखत्महोतीनहींहोतीं।प्रधानाचार्यपरिषदकेप्रदेशवरिष्ठउपाध्यक्षऔरआरबीएसकालेजकेप्रधानाचार्यडा.यतेंद्रपालसिंहकाकहनाहैकिबोर्डपरीक्षाजिलेमें156केंद्रोंपरहोनीहै,जोवर्तमानपरिस्थितियोंकोदेखकरनाकाफीहैं।संसाधनोंकीकमीकेबावजूदइनपर800से1200विद्यार्थीआवंटितहैं।ऐसेमेंशारीरिकदूरीकापालनकरानासंभवनहींहोगा।इसलिएपरीक्षासेपहलेकेंद्रसंख्याबढ़ानेपरगंभीरतासेविचारकरनाहोगा।

दुरुस्तकरेंसंसाधन

प्रधानाचार्यपरिषदकेप्रदेशमहामंत्रीडा.रामलखनयादवकाकहनाहैकिपरीक्षासेपहलेशासनऔरमाध्यमिकशिक्षाविभागकोकेंद्रोंपरसंसाधनदुरुस्तकरानेहोंगे।वर्तमानपरिस्थितिनहींहैंकिइतनेविद्यार्थियोंकीपरीक्षासुरक्षितपरिवेशमेंकराईजाए।ऐसेमेंजिम्मेदारीविभागीयअधिकारियोंकीहोगी।