कैमूर में 123 अनाथ बच्चे परवरिश योजना से हो रहे लाभान्वित, जानिए कैसे ले सकते लाभ

भभुआ,जागरणसंवाददाता।कैमूरजिलेके123अनाथबच्चोंकोपरवरिशयोजनाकालाभमिलरहाहै।यहयोजनाअपनोंसेवंचितहोनेवालेअनाथबच्चोंकेलिएवरदानसाबितहोरहीहैं।कोरोनाकालमेंअनाथहुएबच्चोंकीपहचानजिलाप्रशासनद्वाराकराईगईहै।कोरोनाकालमेंएकलअभिभावकहोनेवालेअनाथहुए49बच्चोंकीभीपहचानकीगईहै।बतादेंकिसमाजकल्याणनिदेशालयकेमाध्यमसेसंचालितपरवरिशयोजनामेंअनाथबेसहाराएवंअसाध्यरोगोंकेकारणदिव्यांगहुएबच्‍चोंकोसमाजमेंबेहतरपालन-पोषणकेलिए प्रतिमाहअनुदानभत्ताकीराशिप्रदानकीजारहीहै।जिलेकेमोहनियांप्रखंडक्षेत्रकेअंतर्गतसबसेअधिक27जबकिभभुआप्रखंडक्षेत्रमें23,चैनपुरप्रखंडक्षेत्रमें21बच्चोंकोसबसेअधिकसंख्यामेंइसयोजनाकालाभप्राप्तहोरहाहै।बालसंरक्षणइकाईकार्यालयसेमिलीजानकारीकेअनुसारजिलेमेंअभीतकपरवरिशयोजनाकेअंतर्गत157बच्चोंकोइसयोजनाकालाभदियाजारहाथा।लेकिन34बच्चोंने18वर्षकीआयुपूरीकरलीहै।इसलिएउन्हेंपरवरिशयोजनाकालाभनहींमिलरहाहै।

क्याकहतेहैंपदाधिकारी:

जिलाबालसंरक्षणपदाधिकारीजितेंद्रकुमारनेबतायाकिकैमूरजिलेमेंवर्तमानसमयमें123अनाथबच्चोंकोपरवरिशयोजनाकालाभदियाजारहाहै।उन्होंनेकहाकिकोरोनाकीवैश्विकमहामारीकेदौरानएकलअभिभावकहोनेवाले49बच्चोंकोभीचिह्नितकियागयाहै।जोजिलेकेविभिन्नप्रखंडक्षेत्रोंकेहैं।इनसभीचिह्नितबच्चोंकानामएनसीइआरपोर्टलपरइंट्रीकरदियागयाहै।

ऐसेलेसकतेयोजनाकालाभ

जिलाबालसंरक्षणपदाधिकारीनेकहाकिइसयोजनाकेअंतर्गत0से6आयुवर्गकेबच्चोंकोएकहजाररुपएप्रतिमाहकीराशिदीजातीहै।इसयोजनाकालाभअनाथबच्चोंको18वर्षकीआयुपूरीनहींहोनेतकराशिदीजातीहै।परवरिशयोजनाकाआवेदनपत्रआंगनबाड़ीसेविकाओंसेनिशुल्कउपलब्धकियाजासकताहै।इसकेअलावाविभागकीवेबसाइटपरभीआवेदनपत्रउपलब्धहै।आवेदनपत्रभरकरएवंआवश्यककागजातोंकेसाथआंगनबाड़ीसेविकाओंकेपासजमाकियाजासकताहै।

परवरिशयोजनाकेअंतर्गतलाभुकोंकीअबतकप्रखंडवारसंख्या

18वर्षकीआयुपूर्णकरनेवालोंकीप्रखंडवारसंख्या

कोरोनाकालमेंएकलअभिभावकअनाथहुएबच्चोंकीप्रखंडवारसंख्या