कांग्रेस सहित विपक्ष ने मानवाधिकार संरक्षण संशोधन विधेयक के वर्तमान स्वरूप का किया विरोध

नयीदिल्ली,19जुलाई(भाषा)लोकसभामेंशुक्रवारकोकांग्रेससहितविपक्षीदलोंनेमानवाधिकारसंरक्षणसंशोधनविधेयककोवर्तमानरूपमेंपेशकियेजानेकाविरोधकियाऔरकहाकिइसमेंकईखामियांहैंऔरयहविधेयकइसविषयपरपेरिससमझौतेकेसिद्धांतोंकेअनुरूपनहींहै।विपक्षकेआरोपोंकोखारिजकरतेहुएसरकारनेकहाकिराष्ट्रीयमानवाधिकारआयोगऔरराज्यमानवाधिकारआयोगोंकोऔरअधिकसक्षमबनानेकेलिएयहविधेयकलायागयाहै।गृहराज्यमंत्रीनित्यनंदरायनेकहाकिमोदीसरकारकीनीतिहैकि‘‘नकिसीपरअत्याचारहो,नकिसीअत्याचारीकोबख्शाजाए’’।उन्होंनेकहाकिप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीऔरभाजपानीतसरकारकीनीतियोंकेकेंद्रमें‘‘मानवऔरमानवताकासंरक्षण’’है।निचलेसदनमेंमानवाधिकारसंशोधनविधेयक2019परचर्चाकीशुरूआतकरतेहुएकांग्रेसनेताशशिथरूरनेआरोपलगायाकिमानवाधिकारोंपरअंतरराष्ट्रीयसमुदायकोदिएगएआश्वासनकोपूराकरनेऔरपेरिससमझौतेकेअनुरूपइसदिशामेंकदमउठानेकेलिएयहसंशोधनविधेयकलायागयाहै।लेकिनयहदिखावेकाप्रयासहै।उन्होंनेजोरदियाकिराष्ट्रीयएवंराज्यमानवाधिकारआयोगोंमेंस्वायत्तताकीकमीहैऔरयहएकऐसीसंस्थाहैजोशक्तिशालीतोहैलेकिनकुछकरपानेमेंसक्षमनहींहै।इससंशोधनमेंआयोगकेविविधिकरणकरनेपरकोईध्याननहींदियागयाहै।कांग्रेसनेतानेकहाकिअध्यक्षएवंसदस्योंकेकार्यकालकोपांचसालकीअवधिसेघटाकरतीनसालकरनेकाइसकेकामकाजपरबुराअसरपड़ेगाऔरलंबेचलनेवालेमामलेकेनिपटारेसेपहलेहीकईसदस्योंकाकार्यकालखत्महोजाएगा।उन्होंनेकहाकिइसअधिनियममेंमानवाधिकारअदालतोंकेक्षेत्राधिकारकोस्पष्टकरनेकाकोईप्रावधाननहींहै।थरूरनेअसममेंराष्ट्रीयनागरिकपंजीकेचलतेकईलोगोंकेआत्महत्याकरनेकाआरोपभीलगाया,साथहीहालहीमेंअधिवक्ताइंदिराजयसिंहऔरउनकेपतिकेआनंदग्रोवरकेयहांछापेमारेजानेतथामानवाधिकारकार्यकर्तासुधाभारद्वाजकीगिरफ्तारीकाविषयभीउठाया।चर्चामेंभागलेतेहुएभाजपाकेसत्यपालसिंहनेकहाकिमानवाधिकारविदेशकीपरिकल्पनाहैजबकिभारतकीपरंपरामेंव्यक्तित्वकेनिर्माणओरसंस्कारपरजोरदियागयाहै।हमनेदुनियाको‘‘वसुधैवकुटुंबकम’’दियाहै।उन्होंनेकहाकिहमेंसंस्कारदियागयाहैकिहमअपनेसाथजैसाव्यवहारचाहतेहैंवैसादूसरोंकेसाथभीव्यवहारकरें।सिंहनेदावाकियाकिदेशमेंज्यादातरसंगठनकीफंडिंगविदेशसेहोतीहैऔरवेआतंकवादियों,नक्सलियोंएवंअपराधियोंकेबजायदेशकीसंस्थाओंपरसवालकरतेहैं।मानवाधिकारकोलेकरइनकीदोहरीनीतिहै।उन्होंनेमानवताकेउदयकेसंदर्भमेंकुछटिप्पणीकीजिसेद्रमुकऔरतृणमूलकांग्रेसकेसदस्योंनेवैज्ञानिकसोचकेखिलाफकरारदिया।चर्चामेंभागलेतेहुएद्रमुककीकनिमोईनेकहाकिदेशमेंवैज्ञानिकसोचकोमजबूतबनाएबिनामानवाधिकारकीसुरक्षासुनिश्चितकरसकतेहैं।उन्होंनेसवालकियाकिराष्ट्रीयमानवाधिकारआयोगकेपासरोजानाऔसतन450मामलेआतेहैं,ऐसेमेंसिर्फएकसदस्यबढ़ानेसेक्याफायदाहोगा?बीजदकेपिनाकीमिश्रानेकहाकिहमेंजोचीजपाकिस्तान,चीनऔररूससेअलगकरतीहै,वहहमारासंवैधानिकरूपसेकहींअधिकमान्यमानवाधिकारआयोगहै।लेकिनइसकीएनएचआरसीकीसालानारिपोर्टकाफीदेरसेआतीहै।सशस्त्रबलोंद्वाराकीजानेवालीहत्याओंपररोकनहींलगानाभीएकअच्छीस्थितिनहींहै।जारीभाषाहकसुभाषदीपकमनीषा