कांग्रेस नेता की मांग, रानी लक्ष्मीबाई और देवी अहिल्या बाई के नाम पर हों ग्वालियर और इंदौर के नाम

इंदौर,एएनआइ।कांग्रेसनेतासज्जनसिंहवर्मानेशनिवारकोमांगकीकिमध्यप्रदेशकेदोशहरोंकेनामबदलकरमहिलास्वतंत्रतासेनानियोंकेनामपररखनेचाहिए।उन्होंनेकहाकिग्वालियरऔरइंदौरकानामस्वतंत्रतासेनानीरानीलक्ष्मीबाईऔरदेवीअहिल्याबाईकेनामपररखाजाए।इसकेअलावाउन्होंनेयहभीसुझावदियाकिस्कूलकेसिलेबसमेंफ्रीडमफाइटर्सकेसाथदेशद्रोहियोंकेनामभीशामिलकिएजानेचाहिए।

इंदौरमेंपत्रकारोंसेबातकरतेहुएउन्होंनेकहाकिदेशकेलिएअपनेप्राणन्यौधावरकरदेनेवालोंकाहीनहींबल्किदेशद्रोहियोंकेनामभीस्कूलीपाठ्यक्रममेंशामिलकिएजानेचाहिए।उन्होंनेकहा,'ग्वालियरकानामरानीलक्ष्मीबाईऔरइंदौरकानामदेवीअहिल्याबाईकेनामपररखाजानाचाहिए।रानीलक्ष्मीबाईऔरउनकेखिलाफसाजिशकरनेवालेदेशद्रोहियोंकेबारेमेंअधिकजानकारीस्कूलकेपाठ्यक्रममेंशामिलकीजानीचाहिए।'

सज्जनसिंहवर्मानेआगेकहा,'इंदौरशहरकानामभीबदलकरदेवीअहिल्याबाईनगरकियाजानाचाहिएऔरकांग्रेसइसकेलिएराज्यसरकारकोप्रस्तावभेजेगी।'

कांग्रेसनेताकीतरफसेयहबयानदेशद्वारास्वतंत्रतासेनानीकीपुण्यतिथिमनानेकेदोदिनबादआयाहै।झांसीकीरानीकेनामसेलोकप्रियरानीलक्ष्मीबाईनेभारतकेपहलेस्वतंत्रतासंग्राम(1857-58)केदौरानएकमहत्वपूर्णभूमिकानिभाईथी।1858मेंग्वालियरकेपासब्रिटिशऔपनिवेशिकशासकोंसेलड़तेहुएउनकीमृत्युहोगईथी।

बेतुकेबयानपरफंसेसज्जनसिंहवर्मा

बतादेंकिकुछसमयपहलेकांग्रेसनेतासज्जनसिंहवर्माअपनेबेतुकेबयानकोलेकरघिरगएथे।उन्होंनेसीएमशिवराजसिंहचौहानद्वारालड़कियोंकीशादीकीउम्र21सालकिएजानेकीबातपरकहाथाकिजबलड़कियां15सालमेंप्रजननलायकहोजातीहैंतोशादीकीउम्र21सालकरनेकीआवश्यकताक्याहै।जबलड़कियोंकीशादीकीउम्रपहलेसे18सालतयहैतोइसमेंबदलावकीक्याजरूरतहै।इसकेबादउनकायेबयानसोशलमीडियापरवायरलहोगयाऔरवोविवादोंमेंघिरगएथे।