कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलसचिव के कारण परीक्षाएं हो रहीं बाधित : कुलपति

फोटो:13डीआरजी28---------

दरभंगा।कामेश्वरसिंहदरभंगासंस्कृतविश्वविद्यालयकेकुलपतिप्रो.शशिनाथझानेअपनेहीविश्वविद्यालयकेकुलसचिवप्रो.सत्येंद्रनारायणसिंहद्वारागुरुवारवशुक्रवारकोलगाएआरोपवव्यवस्थापरउठाएगएसवालोंकोसिरेसेखारिजकियाहै।कुलसचिवद्वारागुरुवारकोविभिन्नवाट्सएपग्रुपपरकिएगएमैसेजकेबादशुक्रवारकोकुलपतिप्रो.शशिनाथझानेपत्रजारीकरबतायाकि(ड्यूटीलीव)डीएलकेलिएएकआवेदनदेकरकुलसचिवएकमाहसेमुख्यालयसेबाहरहैं।बीचमें28से30अप्रैलकोवेआएथे।अबतकसत्र2022-23काबजटनहींजासकाहै।2021कीलंबितपरीक्षाएंलेनेकेलिएयातोपुरानेडाटासेंटरसेएग्रीमेंटकरपरीक्षाकाआयोजनकियाजासकताहै।याउत्तरपुस्तिकाओंकेलिएनिविदानिकालकरपरीक्षाकाआयोजनकियाजासकताहै,जोक्रयसमितिसेपासहै।परकुलसचिवउक्तदोनोंमेंसेएकभीकार्यकेलिएतैयारनहींहैं।ऐसीस्थितिमेंपरीक्षाएंबाधितचलरहीहैं।आयुर्वेदकीपरीक्षा2020एवंउससेपहलेलीगईहै।डाटासेंटरकाकार्यकाल2020कीपरीक्षातकस्वीकृतहै।आयुर्वेदप्रथमव्यावसायिकके29छात्रोंकेनामांकनकीवैधताकीजांचकेलिएउच्चस्तरीयकमेटीगठितकीगई।जिसकेरिपोर्टमेंउसेवैधकरारदियागयाहै।इसेनजरअंदाजकरकुलसचिवद्वाराअवैधकहनाउचितनहींहै।

कुलपतिनेपत्रमेंसाफकियाहैकिसरकारसेजोपत्रवित्तीयअनियमितताकेसंबंधमेंविविकोभेजागयाथा।वहपत्रकुलसचिवकेपासकुलपतिद्वारापांचमार्च2022कोहीभेजागया।सरकारद्वाराप्रेषितवित्तीयअनियमिततासेसंबंधितपत्रकाउत्तरकुलसचिवकेद्वारा15मार्च2022कोहीसरकारकोभेजदियागया।आयुर्वेदपरीक्षामेंनिष्कासितछात्रकोउत्तीर्णकरनेकाआरोपनिराधारहै।कोईछात्रनिष्कासितनहींकियागयाथा।केवलउसपालीकीपरीक्षारदकीगईथी।जिसेबादमेंआयोजितकियागयाथा।

कुलसचिवनेयहकहाथागुरुवारको

बतादेंकिगुरुवारकोकुलसचिवप्रो.सत्येंद्रनारायणसिंहनेविविकेअधिकारियों,अंगीभूतएवंसंबद्धकालेजोंकेवाट्सएपग्रुपपरजारीअपनेसंदेशमेंकहाथाकिजालसाजीकेतहतआयुर्वेदपरीक्षाकापरिणामजारीकियागयाहै।डाटाकंपनीकेसाथअनुबंधखत्महोनेकेबादआखिरकिसस्थितिमेंपरीक्षापरिणामजारीकरदियागया।सरकारद्वाराकईमाहपूर्वकुलपतिकोकारणबताओनोटिसजारीकियागयाथा,जिसकाजवाबअबतकसरकारकोनहींभेजागयाहै।इसपरिस्थितिमेंसरकारकीओरसेबतायागयाहै,अबविश्वविद्यालयकोअनुदानकीराशिनहींभेजीजाएगी।इसकेजिम्मेदारकुलपतिहोंगे।

अबप्रतिकुलपतिनेजारीकियावीडियो,कहा-मैंनेकदाचारकरते10परीक्षार्थियोंकोपकड़ाथा

प्रतिकुलपतिप्रो.सिद्धार्थशंकरसिंहनेशुक्रवारकोएकवीडियोजारीकरकहाकिआयुर्वेदकीपरीक्षामेंपरीक्षाकेंद्रपर10परीक्षार्थियोंकोकदाचारकरतेप्रिटेडचिटकेसाथमैंनेपकड़ाथा।सभी10छात्रोंकोकेंद्राधीक्षककेहवालेकरदियाथा।इसकीसूचनाकुलपतिकोभीदेदीथी।इसकेबादभीपकड़ेगएछात्रोंकोनिष्कासितनहींकियागया।छात्रोंकोनिष्कासितकरनेकीजगहउसदिनकीपरीक्षानिरस्तकरदीगई।बादमेंउक्तविषयकीपरीक्षाकाआयोजनकियागया।सभीप्रक्रियाएंनियमकेविरुद्धकीगई।कुलपतिएकपक्षकाबचावकररहेहैं।