जीएसटी परिषद का राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए : वित्त मंत्री

नयीदिल्ली,15मार्च(भाषा)वित्तमंत्रीनिर्मलासीतारमणनेमंगलवारकोराज्यसभामेंविपक्षीदलोंसेकहाकिवस्तुएवंसेवाकर(जीएसटी)परिषदकोलेकरकिसीभीतरहकीराजनीतिनहींकीजानीचाहिएक्योंकियहबिनाकिसीभेदभावकेपूर्वनिर्धारितफार्मूलेकेतहतकामकरतीहै।वित्तमंत्रीनेउच्चसदनमेंप्रश्नकालकेदौरानपूरकसवालोंकेजवाबमेंयहटिप्पणीकी।उन्होंनेकहाकिजीएसटीपरिषदएकसंघीयसंस्थाहैऔरयहविभिन्नराज्योंकेबीचकोईभेदभावकिएबिनाएकतयफार्मूलेकेतहतजीएसटीमेंउनकेहिस्सेकाभुगतानकरतीहै।उन्होंनेकहाकिजीएसटीपरिषदकोलेकरकिसीतरहकीराजनीतिनहींकीजानीचाहिए।उन्होंनेमहाराष्ट्रकीबकायाजीएसटीराशिसेजुड़ेशिवसेनासदस्यप्रियंकाचतुर्वेदीकेएकप्रश्नकेउत्तरमेंकहाकिजीएसटीपरिषदएकसंघीयसंस्थाहैजिसमेंसभीराज्योंकेवित्तमंत्रीसदस्यहैं।उन्होंनेकहाकिपरिषदसभीकीसहमतिसेतैयारनिर्धारितफार्मूलेकेआधारपरकामकरतीहै।उन्होंनेकहाकियदिमहाराष्ट्रकीबकायाराशिसबसेअधिकहैतोयहभीगौरकियाजानाचाहिएकिउसेअबतकअन्यप्रदेशोंकीतुलनामेंभुगतानभीअधिककियागयाहै।वित्तमंत्रीसीतारमणनेकहाकिजीएसटीलागूहोनेकेकारणराजस्वकेकिसीभीनुकसानकेलिएराज्योंकोपांचवर्षकेलिएक्षतिपूर्तिकेभुगतानकेउद्देश्यसे,जीएसटी(राज्योंकोक्षतिपूर्ति)अधिनियम,2017कीधाराआठकेतहतचुनिंदावस्तुओंपरजीएसटीक्षतिपूर्तिउपकरलगायाजाताहै।उन्होंनेकहाकिकेंद्रभीक्षतिपूर्तिकोषमेंउपलब्धराशिकेआधारपरराज्योंकोनियमितजीएसटीक्षतिपूर्तिजारीकरतारहाहैताकिजीएसटीराजस्वकीकमीकीभरपाईकीजासके।