Jammu: कोरोना से कामधंधा बंद हुआ तो मदद को आगे आई थर्ड आई एंटी क्राइम टीम

जम्मू,सुरेंद्रसिंह:जिससमयकोरोनामहामारीअपनेचरमपरथीऔरलोगअपनेघरोंसेबाहरनिकलनेसेभीडरतेथे,उससमयएकयोद्धाऐसाभीमैदानमेंउतराजोइसमहामारीऔरउनलोगोंकेबीचदीवारबनखड़ाहोगयाजिनकेपासनतोकोरोनासेबचनेकाकोईसाधनथाऔरनहीउनकेपासघरमेंबैठकरखानेकाकोईबंदोबस्त।वहयोद्धाथाथर्डआईएंटीक्राइमटीमकाचेयरमैनशामलालगुप्ताजिसनेइसलड़ाईकोनसिर्फखुदलड़ाबल्किअपनेदोबेटोंकोभीइसमैदानमेंउतारदिया।

शामलालगुप्ताकाकहनाहैकिजिससमयकोरोनामहामारीशुरूहुईतोवहभीअपनाकामधंधाबंदकरघरमेंबैठगए।कुछदिनबादउन्हेंपतालगनेलगाकिकईलोगऐसेभीहैंजोदिहाड़ीलगाकरकमातेथेलेकिनकामधंधाबंदहोनेकेकारणउनकेघरकेचूल्हेभीबंदहोरहेहैं।उनकेसामनेखानेतककेलालेपड़रहेहैं।यहदेखउन्होंनेपहलेजरूरतमंदलोगोंमेंराशनबांटनेकाकामशुरूकिया।वेअपनेदोनोंबेटोंसाहिलऔरसाहिबवअपनीटीमकेकुछसदस्योंकेसाथगांवगांवमेंजातेऔर वहांराशनबांटते।उसदौरानउन्हेंमहसूसहुआकिराशनबांटनेसेभीज्यादाजरूरीहैइसमहामारीकोइनग्रामीणक्षेत्रोंमेंफैलनेसेरोकनाक्योंकिग्रामीणइलाकेमेंअगरकिसीकोकोरोनाहोगयातोउसकेघरमेंइतनीजगहभीनहींहैकिउसेअलगसेक्वारंटाइनकियाजासके।ऐसेमेंयहमहामारीबहुततेजीसेफैलेगी।

यहीसोचकरशामलालगुप्तानेपहलेस्प्रेपंपखरीदेऔरकेमिकलकाबंदोबस्तकरउन्होंनेग्रामीणइलाकोंकोसेनिटाइजकरनाशुरूकरदिया।इसकेबादवेजिसभीगांवमेंराशनबांटनेजाते,वहांउनकीटीमकेसदस्यसेनिटाइजकाकामभीशुरूकरदेते।शामलालकाकहनाहैकिशहरोंवकस्बोंमेंतोनगरनिगमवनगरपालिकाएंसेनिटाइजकरदेतीथींलेकिनग्रामीणइलाकेरहजातेथे।ऐसेमेंउन्होंनेउन्हींइलाकोंकोसेनिटाइजकरनाशुरूकरदियाजहांलोगइससेमरहूमरहरहेथे।

उन्होंनेबादमेंकुछऔरपंपखरीदेववालंटियर्सकेसाथकुछयुवाओेंकोपैसेदेकरसेनिटाइजकेकामतेजकियाप्सीमावर्तीअरनियावबिश्नाहकाशायदहीकोईऐसागांवहोगा,यहांउनकीटीमसेनिटाइजवराशनबांटनेकेलिएनपहुंचीहो।एकसमयतोऐसाभीआयाभीजबलोगउनकीटीमकोदेखफूलतकबरसातेथे।शामलालकाकहनाहैकिअभीभीउनकीकोरोनाकेसाथलड़ाईजारीहै।उनकासैनिटाइजरवराशनबांटनेकाअभियानअबभीजारीहै।

साउथकोरियासेमिलीथीसमाजसेवाकीप्रेरणा: शामलालगुप्ताकोसमाजसेवाकीप्रेरणासाउथकोरियासेमिलीथीजहांवेकामकरनेकेलिएगएथे।शामलालगुप्तानेबतायाकिसाउथकोरियामेंरहतेहुएउन्हेंएकसंस्थाकेसाथकामकरनेकामौकामिलाउजोवहांजरूरतमंदलोगोंकीमददकरतीथी।एकदिनउन्हेंख्यालआयाकिहमारेअपनेदेशमेंभीकईऐसेलोगहैंजोयहांसेज्यादाजरूरतमंदहैं।उन्होंनेइसकेबादसाउथकोरियाकोछोड़भारतवापसआनेकामनबनालिया।उनकेइसनिर्णयकोकईलोगोंजिनमेंअपनेरिश्तेदारभीशामिलहैं,नेगलतबतायालेकिनवहअपनामनबनाचुकेथे।मैंवापसअपनेदेशआयाऔरसंस्थाथर्डआईएंटीक्राइमटीमबनाली।

जरूरतमंदलड़कियोंकीशादीकरवानेसेशुरूकीसमाजसेवा:शामलालगुप्तानेबतायाकिभारतवापसआनेकेबादउन्होंनेजरूरतमंदलड़कियोंकीशादीकरवानाशुरूकिया।इसमेंउन्हेंअपनेदोस्तों,रिश्तेदारोंकाभीसहयोगमिलतागया।उन्हेंजबकिसीलड़कीशादीकरवानीहोतीतोवहअपनेदोस्तों,रिश्तेदारोंकोमददकेलिएसंदेशभेजते।इसकेबादजिससेजोबनपाता,वोमददकरदेते।बादमेंमैंनेएकव्यहाट्सग्रुपभीबनायाजिसमेंवहलड़कीकीशादीकेलिएसंदेशदेतेतोलोगउनकोमदददेनेलगे।उन्हेंजितनीवजिससेभीमददमिलतीहै,वहउसकापूराब्यौरावमददकेखर्चकाहिसाबग्रुपमेंडालदेतेहैं।