हिमाचल ने स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए केंद्र से मांगे 1160 करोड़

राज्यब्यूरो,शिमला:स्वास्थ्यमंत्रीविपिनपरमारनेहिमाचलमेंस्वास्थ्यसेवाओंमेंसुधारकेलिएकेंद्रसे1160करोड़रुपयेकीमांगकीहै।उन्होंनेतीनजिलाअस्पतालोंऔरइंदिरागांधीमेडिकलकॉलेज(आइजीएमसी)एवंअस्पतालशिमलाकेलिए800करोड़रुपयेमंजूरकरनेकाआग्रहकिया।इससंबंधमेंउन्होंनेकेंद्रीयस्वास्थ्यमंत्रीडॉ.हर्षवर्धनसेमुलाकातकी।विपिनपरमारतीनदिवसीयदिल्लीप्रवासपरहैं।

उन्होंनेहिमाचलमेंसातअन्यट्रॉमासेंटरस्थापितकरनेकेलिए21करोड़रुपयेमंजूरकरनेकाआग्रहकिया।उन्होंनेकहाकिपहाड़ीराज्यहोनेकेकारणहिमाचलमेंसड़कदुर्घटनामेंमृत्युदरअधिकहै।रामपुरट्रॉमासेंटरकेलिएभीचारकरोड़रुपयेकीआवश्यकताहै।उन्होंनेनाहन,चंबाऔरहमीरपुरकेजिलाअस्पतालोंऔरआइजीएमसीशिमलाकोमजबूतबनानेकेलिए800करोड़रुपयेकीमांगकी।येतीनोंजिलाअस्पतालमेडिकलकॉलेजोंमेंतबदीलहोगएथे।उन्होंनेकहाकिप्रदेशमेंविभिन्नस्वास्थ्यसंस्थानोंकोभी295करोड़रुपयेकेबजटप्रावधानकीआवश्यकताहै।उन्होंनेराज्यकेलोगोंकेलिएमुफ्तडायगनोस्टिकसेवाएंसुविधाप्रदानकरनेकेलिए200करोड़रुपयेकीभीमांगकी।

उन्होंनेकहाकिहिमाचलमेंभारतकी70प्रतिशतजेनेरिकदवाइयोंकाउत्पादनहोरहाहै।बद्दीमेंड्रगजांचलैबस्थापितकरनेकेलिए15करोड़रुपयेकीपहलेहीस्वीकृतिमिलचुकीहै।हालांकिलैबस्थापितकरनेकेलिएअतिरिक्त15करोड़रुपयेकीआवश्यकताहै।कंडाघाटकीमिलावटजाचलैबकोभीएफएसएसएआइकेवर्तमानमानकोंकोपूराकरनेकेलिए10करोड़रुपयेकेअनुदानकीजरूरतहै।प्रदेशमेंराष्ट्रीयएंबुलेंससेवा(एनएएस)108केतहतसंचालितकीजारही198एंबुलेंसमेंसे143कीपरिचालनलागतवहनकीजारहीहै।प्रदेशकीकठिनभौगोलिकपरिस्थितिकेकारणएंबुलेंसकीतादातकमनहींकीजासकतीहै।उन्होंनेअन्य55एंबुलेंसोंकेसंचालनकेलिएराशिप्रदानकरनेकाअनुरोधकिया।केंद्रीयस्वास्थ्यमंत्रीनेविपिनपरमारकीमांगोंपरविचारकरनेकाआश्वासनदिया।