Haryana School Exam: सीबीएसई और आइसीएसई से जुड़े स्कूलों की 8वीं बोर्ड परीक्षा पर विवाद बढ़ा

राज्यब्यूरो,चंडीगढ़।HaryanaSchoolBoardExam: हरियाणामेंआठवींंकक्षाकीबोर्डपरीक्षापरटकरावबढ़गयाहैै। सीबीएसई(सेंट्रलबोर्डआफसेकेंडरीएजुकेशन)औरआइसीएससी(इंडियनसर्टिफिकेटआफसेकेंडरीएजुकेशन)सेमान्यताप्राप्तस्कूलोंमेंआठवींकक्षाकीपरीक्षाएंहरियाणाविद्यालयशिक्षाबोर्डद्वारालिएजानेकेफैसलेपरविवादथमनेकानामनहींलेरहा।आइसीएससीनेबोर्डसेसंबद्धतमामनिजीस्कूलोंकोलिखितआदेशजारीकियाहैकिपरीक्षाकेलिएहरियाणाविद्यालयशिक्षाबोर्डमेंरजिस्ट्रेशननकराएं।बोर्डपरीक्षाकेफैसलेपरसवालउठारहेनिजीस्कूलसंचालकोंकोअबमुख्यमंत्रीमनोहरलालने25फरवरीकोवार्ताकेलिएबुलायाहै।

आइसीएससीनेसंबद्धनिजीस्कूलोंकोहरियाणाविद्यालयशिक्षाबोर्डमेंरजिस्ट्रेशननकरानेकादियानिर्देश

नेशनलइंडिपेंडेंटस्कूल्सअलायंस(निसा)केराष्ट्रीयअध्यक्षडा.कुलभूषणशर्मानेशनिवारकोपत्रकाराेंसेबातचीतमेंआरोपजड़ाकिशिक्षाबोर्डपरीक्षाकीआड़में40से50करोड़रुपयेकमानाचाहताहै।सरकारनेप्राइमरीकक्षाओंकीपरीक्षाकेलिएजिसराज्यशैक्षिकअनुसंधानऔरप्रशिक्षणपरिषद(एससीईआरटी)कोजिम्मेदारीसौंपीहै,वहइतनीकमजोरकैसेहोसकतीहैकिअपनेस्तरपरपरीक्षाकाआयोजननहींकरवासकती।

निसानेआठवींकीबोर्डपरीक्षाकीजिम्मेदारीहरियाणाविद्यालयशिक्षाबोर्डकोसौंपनेपरउठाएसवाल

उन्‍होंनेकहाकिअगरएससीईआरटीकोयहफैसलालेनाथातोपहलेसभीप्रतिष्ठितबोर्डोंजैसेसीबीएसई,आइसीएसई,आइबीऔरहरियाणाविद्यालयशिक्षाबोर्डसहितअन्यकोलेकरएककमेटीकाचयनकरती।यहकमेटीतयकरतीकिकिसबोर्डकोआठवींकीपरीक्षालेनेकाअधिकारसौंपाजाए।सरकारपहलेएसएसएसएकागठनकरे।एसएसएसएनिर्णयकरेकिमूल्यांकनकौनकरेगाऔरकिसप्रकारकरेगा।उन्होंनेचेतावनीदीकिशिक्षाअधिकारीनहींमानेतोअभिभावकोंकेसाथनिजीस्कूलसंचालकसड़कोंपरउतरनेकोमजबूरहोंगे।

नियम134-एकेबकाया1500करोड़रुपयेकाभुगतानहो

निसाकेराष्ट्रीयअध्यक्षडा.कुलभूषणशर्मानेबतायाकिनियम134एकेतहतदूसरीकक्षासेबारहवींकक्षातककरीब75हजारबच्चेनिजीस्कूलोंमेंपढ़रहेहैं।दूसरीसेआठवींकक्षाकेबच्चोंकेलिएसरकारग्रामीणक्षेत्रोंमें300से500रुपयेऔरशहरीक्षेत्रोंमें500से700रुपयेमासिकफीसदेतीहै।9वींसे12वींकक्षामेंपढ़रहेबच्चोंकेलिएआजतककोईमासिकफीसनिर्धारितनहींकीगई।

उन्होंनेकहाकिवर्ष2015-16से2019-20तककाएकभीपैसाकिसीस्कूलकोनहींदिया।यहराशिकरीब1500करोड़रुपयेकीबनतीहैजोसरकारकीतरफबकायाहै।यहबकायाराशि12प्रतिशतसालानाब्याजकेसाथतुरंतस्कूलोंकोदीजाए।जोबच्चे9वींसे12वींतकबिनाफीसपढ़रहेहैं,उनकाभीनियमानुसारपिछलेसालकाभुगतानकियाजाए।