दिल्ली के बिगड़े हालात को लेकर BJP का हमला, मीनाक्षी लेखी बोलीं- क्यों ऑक्सीजन ऑडिट का केजरीवाल सरकार कर रही विरोध

राष्ट्रीयराजधानीदिल्लीमेंकोरोनामहामारीकेचलतेचरमराईस्वास्थ्यव्यवस्थाकेबीचभारतीयजनतापार्टीनेकेजरीवालसरकारकोआड़ेहाथोंलियाहै.बीजेपीसांसदमीनाक्षीलेखीमंगलवारकोकहाकिविज्ञापनोंमेंअरविंदकेजरीवालनेकहाकिसभीकोदिल्लीमेंवैक्सीनेशनकियाजाएगा.लेकिननाहीकोईग्लोबलटेंडरकियागयाऔरनाहीकोईऔरव्यवस्थावैक्सीनकेलेकरकीगईहै.अगरउन्होंनेऐसाकियातोउन्हेंटेंडरकीकॉपीदिखानीचाहिए.

हेल्थइंफ्रस्ट्रक्चरपरदावेहवा-हवाई

मीनाक्षीलेखीनेआगेकहा–“2015मेंअपनेघोषणापत्रमेंआमआदमीपार्टीकीसरकारनेकहाथाकिहमदिल्लीमेंहेल्थइंफ्रास्ट्रक्चरबढ़ाएंगेऔर30,000बेड्सलगाएंगे.लेकिनहाईकोर्टमेंमामलेसामनेआएतोपताचलाकिदिल्लीसरकारनेसिर्फ354बेड्सलगाए,वोभीतबजबपिछलेसालकेंद्रसरकारनेदबावबनाया.”

कमहोगईदिल्लीमेंडिस्पेन्सरी

बीजेपीसांसदनेआगेकहा-“इनकेआनेसेपहलेदिल्लीमेंडिस्पेन्सरीकीसंख्या265थी,जोआजघटकर230रहगईहै.MCDकेजोकर्मचारीडेंगुरोधीऔरमलेरियारोकनेकेलिएकार्यकरतेहैं,उनकीतनख्वाहदेनेकाकामइनकाहै.”

उन्होंनेआगेकहा-इसकेलिएअगर500करोड़रुपयेकीआवश्यकताहै,लेकिनइन्होंनेकभी9करोड़दिए,कभी10करोड़दिए.जबकिकेंद्रसरकारनेइनकोपिछलेसाल1,116करोड़रुपयेऔरइसवर्ष1,120करोड़रुपयेदिएहैं.

येभीपढ़ें:केंद्रकोविडवैक्सीनकाफॉर्मूलालेकरअन्यसक्षमकंपनियोंकोभीदेजिससेबढ़ेप्रोडक्शन-अरविंदकेजरीवाल