दिल्ली के अस्पताल आयुष्मान भारत स्कीम का लाभ देने के लिए तैयार नहीं

नईदिल्ली।देशकेप्रधानमंत्रीनरेन्द्रमोदी23सितंबर2018कोझारखंडकीराजधानीरांचीमेंसरकारीहेल्थस्कीमआयुष्मानभारतयोजनाकीशुरुआतकी।पीएमनेदेशभरके10करोड़परिवारोंको5लाखतककेमुफ्तइलाजकातोहफादिया,लेकिनसरकारकीइसस्कीमकालाभलोगोंतकपहुंचानेकेलिएअस्पतालतैयारनहींहैं।यहांतककीदिल्लीकेअस्पतालभीआयुष्मानभारतयोजनाकेतहतलोगोंकोस्कीमकालाभदेनेकेलिएतैयारनहींहोपाएहैं।

योजनाकीशुरुआतकेतीनदिनबीतजानेकेबादभीदिल्लीकेअस्पतालमेंकिसीभीलाभार्थीकोअबतकइसयोजनाकालाभनहींदियागयाहै।इतनाहीनहींयेअस्पतालसरकारकीइसकल्याणकारीस्कीमकेबारेमेंलोगोंकोजानकारीतकनहींदेरहेहैं,ताकिज्यादासेज्यादालोगइसयोजनाकेबारेमेंजानसकेंऔरस्कीमकालाभउठासके।दिल्लीकेबड़ाअस्पतालजैसेकिAIIMS,सफदरजंगअस्पताल,राममनोहरलोहियाअस्पताल,लेडीहार्डिंगअस्पतालजोइसयोजनाकेतहतआतेहै,उनमेंभीअबतककिसीमरीजकोइसयोजनाकालाभनहींमिलाहै।

इसयोजनाकीपब्लिसिटीकेलिएअस्पतालोंकीकोईतैयारीनहींहै।इनअस्पतालोंमेंआयुष्मानभारतयोजनाकोलेकरनतोकोईपोस्टरलगेहैंऔरनहीकोईबैनरलगाएगएहैं,जिसकीमददसेलोगोंकोइसलाभकारीयोजनाकेबारेमेंजानकारीमिलसके।दिल्लीकेराममनोहरलोहियाअस्पतालमेंआयुष्मानभारतयोजनाकेलिएएकटेबललगाईगईहै,लेकिनइसयोजनाकालाभपानेवालेगरीबपरिवारोंकोवहांपहुंचनेमेंऔरफिरवहांपहुंचकरअपनानामतलाशनेमेंकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़रहाहै।

सूत्रोंसेमिलीजानकारीकेमुताबिकअस्पतालमें17सितंबरकोहीयहांआयुष्मानयोजनाकीजानकारीदेनेऔरलोगोंकीमददकेलिएकाउंटरलगाएगएथे।हरदिनकरीब10-15लाभार्थीलिस्टमेंअपनानामतलाशनेकेलिएअस्पतालकेइसकाउंटरपरचक्करकाटतेहैं,लेकिनउन्हेंनिराशाहाथलगतीहै,क्योंकिउन्हेंलिस्टमेंअपनानामनहींमिलताहै।योजनाकालाभपानेकीउम्मीदलेकरआनेवालेमरीजोंकोनिराशाहीहाथलगतीहै।ऐसाइसलिएक्योंकिकाउंटरपरस्टाफऔरकंप्यूटरतोहै,लेकिनउसकाकनेक्शनसॉफ्टवेयरनहींहैं,जिसकीवजहसेउनकेपासकोईडेटानहींहै।अस्पतालकेस्टाफकाकहनाहैकियोजनाकोबिनाकिसीतैयारीकेलॉन्चकरदियागया।

हैरानीतोतबहुईजबAIIMSजैसेबड़ेअस्पतालमेंकोईभीस्टाफइसयोजनाकोलेकरबोलनेकेलिएतैयारनहींहुआ।एम्सकेडायरेक्टरडॉरनदीपगुलैरियाकादावाहैकिएम्समेंमरीजोंकोआयुष्मानभारतयोजनाकालाभमिलरहाहै।हालांकिपूरेअस्पतालमेंकहीभीइसयोजनाकोलेकरकोईपोस्टरबैनरनहींलगेथे।वहींएम्सकेबगलअस्पतालसफदरजंगमेंआयुष्मानयोजनाकोलेकरकांउटरतोलगेहैं,लेकिनवहांकोईभीमरीजोंकोगाइडकरनेकेलिएमौजूदनहींहै।

कहनेकामतलबयेकिइसयोजनाकोबिनाकिसीतैयारीकेलॉन्चकरदियागया।योजनासेपब्लिसिटीजैसीचीजगायबहै।देशकेकिसीभीहिस्सेसेआएमरीजोंकोइसयोजनाकालाभमिलनाहै,लेकिनयेतोआनेवालावक्तहीबताएगाकीस्कीमकालाभलोगोंतकपहुंचेगायाफिरस्कीमकागजोंतकसीमितरहजाएगी।