डॉ. उप्पल का नाम व‌र्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज

संवादसूत्र,मलोट(श्रीमुक्तसरसाहिब)

डीएवीकॉलेजकेअर्थशास्त्रविभागकेमुखीडॉ.आरकेउप्पलनेदससालोंमेंयूजीसीआइ,सीएसएसआरतथाआइआइपीएन्यूदिल्लीद्वारादिएखोजकेसातमुख्यप्रोजेक्टोंपरकामपूराकरलियाहै।उनकीबहुतहीशानदाररिपोर्टआईहै।यहसभीप्रोजेक्टउन्होंनेनेभारतीबैकिगप्रणालीमेंसुथारकरनेकेलिएतथाइसकोसमयकाहानीबनानेकेलिएपूराकिया।

डॉ.उप्पलनेअपनेप्रोजेक्टमेंयहमहत्तवपूर्णलक्ष्यरखाहैकिकिसढंगसेभारतीयबैकिगप्रणालीअंतरराष्ट्रीयस्तरपरबैंकोंकासामनाकरसकतीहैतथाकिसढंगसेसमयकाहानीबनसकतीहै।उन्होंनेभारतकेगांवोंमेंईबैकिगकाविस्थारकरनेलिएतथाबैंकग्राहकोंकोज्यादासेज्यादासहूलियतदेनेलिएभारतीयबैंकिगकोतरीकेबताएवसुझावदिए।आजकलभारतीबैकिगप्रणालीमेंजोपरिवत्रनहोरहेहैउनमेंदनप्रोजेक्टोंकीखासदेनहै।प्रोजेक्टोंकेपरिणामनीतिबनानेवालेलिएयोजनाबनानेलिएबैकोंतथाबैंकअधिकारियोंकेलिएबहुतलाभदायकहै।इनप्रोजेक्टोंकीमहत्ताकोदेखतेव‌र्ल्डबुकऑफरिकॉर्डयूकेनेडॉ.उप्पलकानामइसमेशामिलकियाहै।उन्होंनेडॉ.उप्प्लकोसार्टीफिकेटभीजारीकरदियाहै।इसशानदारप्राप्तिपरदोस्तोंनेउप्पलकोबधाईदीहै।

डॉ.उप्पलनेबतायाकिइसप्राप्तिसेडीएवीकॉलेजहीनहींब्लकिमलोटशहरकानामभीरोशनहुआहै।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!