डीयू : ऑफलाइन कक्षाएं बहाल करने की मांग को लेकर विद्यार्थियों का लगातार तीसरे दिन प्रदर्शन

नयीदिल्ली,नौफरवरी(भाषा)दिल्लीविश्वविद्यालयमेंऑफलाइनकक्षाएंबहालकरनेकीमांगकोलेकरविद्यार्थियोंकानार्थकैम्पसमेंचलरहाविरोधप्रदर्शनबुधवारकोतीसरेदिनमेंप्रवेशकरगया।विद्यार्थीअपनीमांगोंकोअधिकारियोंतकपहुंचानेकेलिएतरह-तरहकेतरीकेअपनारहेहैं।स्टुडेंट्सफेडरेशनऑफइंडिया(एसएफआई)ने‘सड़कपरकक्षा’अभियानकीशुरुआतकीजहांपरमिरांडाहाउसकीप्रोफेसरआभादेवहबीबनेविश्वविद्यालयकीअकादमिकपरिषदकीकार्यप्रणालीऔरशिक्षाप्रणालीमेंहोनेवालेबदलावोंपरबातकी।हबीबनेइसदौरानअकादमिकपरिषदकीकथित‘‘अलोकतांत्रिकप्रवृत्ति’’कोरेखांकितकियाऔरचारसालकेपूर्वस्नातकपाठ्यक्रम(एफवाईयूपी)औरकेंद्रीयविश्वविद्यालयसमानप्रवेशपरीक्षा(सीयूसीईटी)को‘‘विद्यार्थीविरोधी’’नीतिकरारदिया।एसएफआईनेघोषणाकीहैकिविश्वविद्यालयसेसबद्ध10महाविद्यालयोंमेंबृहस्पतिवारकोभी‘सड़कपरकक्षा’’अभियानजारीरहेगा।इसबीच,राष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघ(आरएसएस)सेसबद्धअखिलभारतीयविद्यार्थीपरिषद(एबीवीपी)कीइसीमुद्देपरअनिश्चितकालीनभूखहड़तालबुधवारकोदूसरेदिनजारीरही।वामदलोंसेसबद्धऑलइंडियास्टुडेंट्सएसोसिएशन(आईसा)नेऑफलाइनकक्षाएंबहालकरनेकीमांगकोलेकरकलासंकायकेबाहर‘‘चक्काजाम’’काआयोजनकिया।क्रांतिकारीयुवासंगठननेबुधवारकोकेंद्रीयशिक्षामंत्रालयकेकार्यालयशास्त्रीभवनकाघेरावकरअपनाविरोधजताया।प्रदर्शनमेंशामिलप्रदर्शनकारियोंनेविरोधमेंमुंडनभीकराया।