डीएम की नाराजगी का असर नहीं, सड़क निर्माण में अनदेखी

रायबरेली:चारदिनपहलेजिससड़ककीदशाकोलेकरडीएमनेनाराजगीजताईथी।उसकाहालयहहैकिअभीतकसड़कनिर्माणमेंगुणवत्ताकाख्यालनहींरखाजारहाहै।मामलेकोलेकरकांग्रेसियोंनेनाराजगीजाहिरकरशिकायतमुख्यमंत्रीसेकरनेकीबातकहीहै।

गौरतलबहैकिसरेनी-पूरेपाण्डेयमार्गकेनिर्माणमेंमानकोंकीअनदेखीकरकरोड़ोरुपयेडकारलिएगयेहैं।गड़बड़ीकीझलकइसबातसेमिलरहीहैकिसड़कबनेछहमाहहुएहैंऔरउसपरसफरकरनाअभीभीकठिनहै।इससड़ककानिर्माणग्रामीणविकासमंत्रालयभारतसरकारकीओरसेकरायागयाथा।इसकेलिये30करोड़18लाख1413रुपयेकाबजटभीआवंटितथा,लेकिन6किमीलंबीइससड़ककेनिर्माणमेंलगेठेकेदारोंनेमानकोंकीधज्जियांउड़ानेमेंकोईकसरनहींछोड़ी।सड़ककेकिनारेकुछस्थानोंपरनालियोंकेनिर्माणमेंखानापूरीकीगयी,जबकिसड़ककेदोनोंकिनारोंपरकीजानेवालीइंटरला¨कगकागजोंपरहीपूरीकरलीगयी।मामलेकीशिकायतग्रामप्रधानवग्रामीणोंनेकीलेकिननतीजासिफररहा।जबकिइसमार्गपरदोइंटरकालेज,ब्लाकमुख्यालय,पशुचिकित्सालय,कोतवालीवऐतिहासिकशहीदस्मारकभीस्थितहै।क्षेत्रवासियोंनेसड़ककेनिर्माणकीजांचकेसाथहीइसकेनिर्माणकेजिम्मेदारअधिकारियोंकेखिलाफजांचकरइसकेपुन:निर्माणकीमांगकीहै।सरेनीकेपूर्वप्रधानवकांग्रेसअल्पसंख्यकमोर्चाकेनेतामोअमीनहाश्मीनेजिलाधिकारीकोशिकायतीपत्रभेजकरचेतावनीदीहैकिअगरएकसप्ताहमेंकोईकार्रवाईनहींहुईतोवहलोगोंकेसाथशहीदस्मारकपरधरनादेंगे।कहाकार्रवाईनहोनेकीस्थितिमेंमुख्यमंत्रीसेबातकीजाएगी।