छात्रों में कहीं खुशी तो कहीं गम, छात्रों के मूल्यांकन के तरीके पर शुरू हुई माथापच्ची, कोई छात्र नहीं होगा फेल, होगी ग्रेडिंग

सीबीएससीबोर्डकेबादबुधवारकोएमपीबोर्डकी12वींकीपरीक्षाभीराज्यसरकारनेनिरस्तकरदी।पहलेजून-जुलाईमेंपरीक्षाकरानेकेविकल्पोंपरविचारचलरहाथा।राज्यसरकारकेइसनिर्णयकाजिलेके30हजारछात्रोंकेभविष्यपरअसरपड़नातयहै।कुछछात्रजहांकोविडकोदेखतेहुएइसनिर्णयकोसहीबतारहेहैं,वहींकईप्रतिभाशालीछात्रोंकातर्कहैकिग्रेडिंगकेचलतेउनकेकैरियरपरइसकाकहींअसरनपड़े।

जबलपुरमें12वींमेंकुल30हजारकेलगभगछात्र-छात्राएंपरीक्षाकीतैयारीमेंजुटेथे।बुधवारकोराज्यसरकारकेनिर्णयकेबादउनमेंमिला-जुलाअसरहै।संजीवनीनगरनिवासीमॉडलस्कूलकेछात्रविपिनकेमुताबिकउनकेअच्छेअंकआतेरहेहैं।अबपरीक्षानहींहोगीतोग्रेडिंगकिसआधारपरहोगी।आगेइसकाउनकेकैरियरपरकोईअसरतोनहींपड़ेगा।बोलेकिपरीक्षाकेआधारपरमूल्यांकनहोतोअच्छाहै,भलेहीपरीक्षाकाविकल्पकुछभीहो।

एमपी12वींबोर्डपरीक्षाभीरद्द:CBSEकेबादशिवराजसरकारकाफैसला;मंत्रीसमूहढूंढ़ेगारिजल्टतैयारकरनेकातरीका

स्कूलसंचालकोंकोभीआपत्ति

नचिकेताहायरसेकेंडरीस्कूलकेप्रिंसिपलनितिनपॉलकेमुताबिककोविडकोदेखतेहुएपरीक्षाटालनाउचितहै,लेकिनइसकाकोईविकल्पखोजनाथा।क्योंकिइससेप्रतिभाशालीछात्रोंकेसाथअन्यायहोगा।आगेकैरियरमेंजहां10वींऔर12वींकेअंकोंकेआधारपरमेरिटतयहोगी।उसस्थितमेंइनबच्चाेंकेअंककैसेजोड़ेजाएंगे।

शासकीयकन्याकराैंदीस्कूलकेप्रिंसिपलश्यामकुमारश्रीवास्तवकेमुताबिकबच्चोंकेजीवनसेबढ़करपरीक्षानहींहै।हमतोपरीक्षाकीतैयारियोंमेंजुटेथे।शासनस्तरपरभीयहीबतायागयाथा।अबपरीक्षानिरस्तकरदियागया।छात्रोंकामूल्यांकनकिसतरहहोगा,इसकेबादहीतयकरपाएंगेकिसरकारकानिर्णयसहीहैयागलत।

सरकारऔरएमपीबोर्डकीओरसेमांगेगएहैंसुझाव

एमपी12वींबोर्डपरीक्षारद्द,अबआगेक्या:एक्सपर्टबोले-पिछले2से3सालकीपरीक्षाओंकेमार्क्सऔरआंतरिकमूल्यांकनकेआधारपरबनेगारिजल्ट;खुदकोपासमानलेंस्टूडेंट्स

सिवनीमॉडलभीअपनासकतीहैसरकार

सिवनीकेजिलाशिक्षाधिकारीरविसिंहबघेलनेआसपासकेगांवोंकेअभिभावकोंकाग्रुपबनायाथा।वेकिसीएकयादोअभिभावककोबुलाकरप्रश्नपत्रदिएथे।फिरउन्हेंपरीक्षानियंत्रककादायित्वदेकरछात्रोंकोएकजगहबुलाकरटाइमकेअनुसारपरीक्षाकरायाथा।फिरअभिभावकहीउत्तरपुस्तिकालाकरजमाकरगएथे।

स्कूलसेएग्जामतकटोटलरीकॉल

-नवंबर2020में9वींसे12वींतककेस्कूलकोसशर्तखुलवायागयाथा।स्टूडेंट्सकोहफ्तेमेंएक-दोदिनकेलिएअभिभावकोंकीमंजूरीकेसाथस्कूलआनेकीइजाजतदीगईथी।मार्चमेंबढ़तेहुएकोरोनाकेमामलोंकोदेखतेहुएअचानकफैसलाकरइन्हेंभीबंदकरानापड़ाथा।कक्षापहलीसेआठवींतककेस्कूलखुलनेकोलेकरशिक्षामंत्रीने10मार्च2021कोआदेशदिएथेकि1अप्रैल2021सेस्कूलखोलेजाएंगे।2जूनकोएमपीबोर्डकी12वींकीपरीक्षारद्दकरनेकानिर्णयलियागया।

सरकारकोभेजेजारहेहैंमूल्यांकनकेसुझााव

12वींकीपरीक्षानिरस्तहोनेकेबादअबबच्चोंकेमूल्यांकनकोलेकरबोर्डऔरशिक्षाविभागकीओरसेसुझावमांगेजारहेहैं।इसमेंसीबीएससीकीतर्जपरयाफिरप्री-बोर्डपरीक्षाकेरिजल्टकोआधारबनानेकाविकल्पबतायागयाहै।सिवनीमॉडलभीएकबेहतरविकल्पहोसकताहै।इसमूल्यांकनमेंकोईछात्रफेलनहींहोगा।ग्रेडिंगकेअनुसाररिजल्टघोषितहोसकताहै।

डॉ.राममोहनतिवारी,संभागीयसंयुक्तसंचालक,जबलपुर